करोड़ों खर्च के बाद भी बदहाल पड़ा खेड़ाखाल-छांतीखाल-डुंगरीपंथ मोटर मार्ग

Spread the love

रुद्रप्रयाग। बच्छणस्यूं व चलणस्यूं के पट्टी के गांवों को जोड़ने वाला खेड़ाखाल-छांतीखाल-डुंगरीपंथ मोटर मार्ग करोड़ों खर्च के बाद भी बदहाल पड़ा है। मार्ग के शुरूआती दो किमी का सुधार कार्य दो वर्ष में भी पूरा नहीं हो पाया है। जो काम हुआ भी है, उसमें भी रेत, बजरी की जगह मिट्टी बिछाई गई है। साथ ही कटिंग का मलबा ग्रामीणों के खेतों में डाला गया है। क्षेत्रीय ग्रामीणों की शिकायत पर जिलाधिकारी ने मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित की है, जो एक सप्ताह में रिपोर्ट देगी।लोक निर्माण विभाग श्रीनगर के अधीन मोटर मार्ग के शुरूआती ढाई किमी का सुधारीकरण कार्य अक्तूबर 2018 में शुरू किया गया था, किंतु आज तक कार्य पूरा नहीं हो पाया है। ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार द्वारा अभी तक जो भी कार्य कराया गया है, वह दोएम दर्जें का है। पुश्तों व स्क्रबर के निर्माण में रेत, बजरी के बजाय मिट्टी का उपयोग किया गया है। कटिंग का मलबा भी खेतों में डाला गया है। ग्रामीण अनिल सिंह, मनोज, महेंद्र सिंह, हरेंद्र सिंह, गजेंद्र सिंह रौथाण, पदम सिंह आदि का कहना है कि अधिकारियों व ठेकेदार की मिलीभगत से सडक़ सुधार के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है। दो दिन पूर्व विधायक भरत सिंह चौधरी ने मार्ग का निरीक्षण किया है। कहा कि सुधारीकरण कार्य में कार्यदायी एजेंसी व विभाग द्वारा जमकर मनमानी की गई है। दोनों के विरूद्ध सरकारी धन के दुरूपयोग व मानकों की अनदेखी के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए। इधर, डीएम वंदना सिंह ने बताया कि एसडीएम की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी सुधारीकरण कार्य में निर्मित पुश्ता, स्क्रबर व कटिंग की मानकों के अंतर्गत जांच कर अपनी रिपोर्ट देगी। उसी के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!