डायरिया प्रभावित बमस्यूं में रोगियों की सेहत में सुधार

Spread the love

अल्मोड़ा। ताड़ीखेत ब्लाक के डायरिया प्रभावित बमस्यूं गांव में स्थिति अब सामान्य होने लगी है। रोगियों की सेहत में तेजी से सुधार हो रहा है। शनिवार को भी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ताड़ीखेत की स्वास्थ्य टीम ने गांव में जाकर रोगियों के स्वास्थ्य की जांच की तथा दवाएं बांटी गईं। दूषित पानी से रोग फैलने की आशंका के मद्देनजर स्वास्थ्य टीम ने पानी का ट्रीटमेंट भी किया है। मालूम हो कि ताड़ीखेत के ग्राम बमस्यूं में डायरिया फैलने से 20 से अधिक ग्रामीण बीमार हो गए थे। पीएचसी ताड़ीखेत की चिकित्सा टीमों ने गांव में जाकर रोगियों का स्वास्थ्य परीक्षण व उपचार शुरू किया। स्वास्थ्य टीम ने शनिवार को चौथे दिन भी गांव का दौर कर रोगियों की सेहत की जांच की। पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. डीएस नबियाल ने बताया कि स्थिति अब पूरी तरह नियंत्रण में हैं, लगभग सभी रोगी स्वस्थ्य हो चुके हैं। माइनर डायरिया कोई भी नहीं नया मामला नहीं आया है। उन्होंने बताया कि दूषित पानी के सेवन के कारण संक्रामक रोग फैलने की प्रबल आशंका है। गांव के पेयजल स्रोत का ट्रीटमेंट करने के साथ ग्रामीणों को क्लोरीन की गोलियां भी बांटी गईं हैं। साथ ग्रामीणों को साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा गया है, उन्हें संक्रामक रोगों व उपचार के बारे में भी जानकारी दी गई। ग्रामीणों ने स्रोत के पानी का सेवन बंद कर दिया है।
आज आएगी पानी के सैंपल की रिपोर्ट
रानीखेत। दूषित पानी के सेवन से डायरिया फैलने की आशंका के मद्देनजर गांव को पेयजल उपलब्ध कराने वाली दैनगाड़ पेयजल योजना के स्रोत और टैंकके पानी के सैंपल लेकर जांच के लिए जल परीक्षण केंद्र मासी भेज दिए हैं। जल संस्थान के अवर अभियंता मनोज पांडे ने बताया कि सैंपल की रिपोर्ट रविवार तक आ जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!