कोटद्वार में स्ट्रीट लाइट खराब होने से लोग परेशान

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
कोटद्वार नगर निगम के अधिकांश वार्डो की गलियों में सायं होते ही अंधेरा छा जाता है। निगम क्षेत्र में स्ट्रीट लाइटें तो लगी है, लेकिन इनमें से अधिकतर लाइटें खराब पड़ी हुई है। लोगों ने नगर निगम से जल्द ही स्ट्रीट लाईट को ठीक करवाने की मांग की है। हालांकि नगर निगम की ओर से प्राथमिकता के अनुसार स्ट्रीट लाईटों को ठीक करवाया जा रहा है।
स्थानीय लोगों का कहना है कि शहर को रोशन करने की जिम्मेदारी नगर निगम की है। शहर की गलियों और सड़कों पर लगी अधिकतर लाइटें खराब है, जिससे लोगों को आवाजाही में परेशानी हो रही है। साथ ही चोरी का भय बना रहता है। स्ट्रीट लाइटों पर लाखों रुपये खर्च होने के बावजूद लोगों को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। क्षेत्र की अधिकांश गलियों में भी पिछले काफी समय से स्ट्रीट लाइट खराब पड़ी हुई है। स्थानीय लोगों का कहना है कि नगर निगम के अधिकारियों को इस संबंध में पूर्व में भी अवगत कराया गया था, लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है। गलियों में स्ट्रीट लाइट खराब होने से लोगों को आवाजाही में दिक्कत हो रही है। सड़कों पर लाइटे लगी होने के बावजूद लोग परेशान हैं। उन्होंने कहा कि अंधेरे के कारण शाम के समय महिलाएं घर से निकलने में भी भय महसूस करती है। सिम्मलचौड़ निवासी विकास आर्य ने बताया कि मुख्य सड़क से टीसीजी स्कूल तक बहुत ही कम स्ट्रीट लाईटें लगाई गई है, वह भी कभी जलती है कभी नहीं जलती है। उन्होंने कहा कि मुख्य मार्ग से टीसीजी स्कूल तक कम से कम 10 स्ट्रीट लाईटें लगाई जानी चाहिए। इसके अलावा गैस गोदाम के पास जंगल होने से वहां जंगली जानवरों का भय बना रहता है। यहां पर स्ट्रीट लाईट लगाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि बार-बार स्ट्रीट लाईट खराब होने से स्थानीय लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। रात को अपने घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे। उन्हें चोरों का भी डर हर समय सताया रहता है। उन्होंने बताया कि वे इसकी शिकायत कई बार नगर निगम अधिकारियों को दे चुके हैं, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हो रही। उधर, नगर निगम कोटद्वार के नगर आयुक्त पीएल शाह ने बताया कि स्ट्रीट लाईट खराब होने की शिकायत पर तत्काल लाईटों की मरम्मत कराई जाती है। क्षेत्र में प्राथमिकता के अनुसार स्ट्रीट लाईटें भी लगवाई जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!