15 दिन में प्रस्ताव उपलब्ध कराये : डीएम

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी : गोविंद बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान के तत्वावधान में एक दिवसीय जिला पर्यावरण योजना परामर्शी कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में डीएम ने नगर निकायों के अधिशासी अधिकारियों को शहरों के अन्दर दो प्रमुख स्थानों का चयन करते हुए संकलन पेटी, टंकी लगाने व हवा में प्रदूषण के स्तर को मापने के लिए आवश्यक यांत्रिक उपकरणों की स्थापना को लेकर 15 दिन के भीतर प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
जिला सभागार में आयोजित कार्यशाला में डीएम डा.विजय कुमार जोगदंडे ने कहा कि प्लास्टिक के निस्तारण के बाद प्राप्त अवशिष्टों के संकलन को लेकर एक केन्द्रीकृत व्यवस्था का होना अति आवश्यक है ताकि उद्यमी इस ओर आकृषित हो सके। कार्यशाला में गोविन्द बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान के वैज्ञानिक, सैद्धान्तिक प्रोजेक्ट इन्वेस्टीगेटर जेसी कुनियाल ने सॉलेड वेस्ट, बायो वेस्ट, डेमोलीशन वेस्ट, इलैक्ट्रॉनिक वेस्ट, प्लास्टिक वेस्ट सहित कुल 15 बिन्दुओं पर विभागों के अधिकारियों को जानकारी दी। उन्होंने फॉरेस्ट फायर मेनेजमेन्ट, बायोमेडिकल वेस्ट मेनेजमेन्ट, वाटर वेस्ट मेनेजमेन्ट, घ्वनि प्रदूषण, वायु प्रदूषण की रोकथाम को लेकर कुछ महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए। कार्यशाला में सीडीओ अपूर्वा पांडे, डीएफओ गढ़वाल मुकेश कुमार आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!