एक करोड़ की स्मैक के साथ बेरली का युवक गिरफ्तार

Spread the love

देहरादून। सहसपुर पुलिस ने करीब एक करोड़ की स्मैक के साथ बेरली के युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपी से पूछताछ के बाद गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं। आरोपी पुरानी कारें खरीदने-बेचने का भी काम करता है। शुक्रवार को पुलिस कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि 25 फरवरी को सहसपुर पुलिस को सूचना मिली कि बरेली से भारी मात्रा में स्मैक लेकर एक युवक खुशहालपुर चौक के समीप आ रहा है। सूचना पर एसओ नरेंद्र गहलावत, एसएसआई कुलदीप पंत के नेतृत्व में पुलिस टीम लांघा रोड पर पहुंची और क्षेत्र में चेकिंग अभियान चलाया। इसी दौरान डेयरी के पास एक युवक की गतिविधियां संदिग्ध लगने पर पुलिस ने उसे रुकने का इशारा किया, लेकिन वह पुलिस को देखकर छिपने लगा। एसओ गहलावत ने आरोपी को हिरासत में लेकर तलाशी ली। युवक के पास से थैले में 356 ग्राम स्मैक बरामद की गई। पुलिस आरोपी को लेकर थाने पहुंची जहां पूछताछ में नाम शराफत पुत्र शखावत निवासी जानकी देवी इंटर कॉलेज के पास मोहल्ला सराय थाना, फतेहगंज, बरेली उत्तर प्रदेश बताया। एसएसपी डॉ. रावत ने बताया कि आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस ऐक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में स्मैक की कीमत करीब एक करोड़ है। आरोपी खुशहालपुर में रहने वाली एक महिला को स्मैक की डिलीवरी देने आया था। महिला के खिलाफ पहले भी एनडीपीएस ऐक्ट में मुकदमे दर्ज हैं। उन्होंने पुलिस टीम को ढाई हजार ईनाम देने की घोषणा की है।
बरेली के कुछ लोग दून पुलिस के रडार पर- एसएसपी ने बताया कि आरोपी से पूछताछ में बरेली के छह लोगों के बारे में पुलिस को जानकारी दी है। उक्त लोग कच्चा माल राजस्थान और झारखंड से लेकर आते हैं और फतेजगंज में स्मैक तैयार कर बेचते हैं। बताया कि आरोपी शराफत ने भी बरेली में फतेहगंज निवासी इफाकत से एडवांस में ढाई लाख देकर उक्त स्मैक खरीदने की बात कही है। एसपी देहात स्वतंत्र कुमार ने बताया कि पुलिस की जांच के दायरे में आ रहे लोगों से भी पूछताछ होगी। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। गौरतलब है कि सहसपुर एसओ नरेंद्र गहलावत ने प्रेमनगर एसओ रहते हुए वर्ष 2019 में सर्वाधिक 610 ग्राम स्मैक पकड़ी थी। वहीं 330 ग्राम स्मैक भी एसओ नरेंद्र ने पुलिस टीम संग आरोपियों से बरामद की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!