कोटद्वार में पीर बाबा की मजार के प्रवेश द्वार के घंटें हुए चोरी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोटद्वार में चोरी की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। पुलिस एक चोरी का खुलासा नहीं कर पा रही और चोर दूसरी वारदात को अंजाम दे दे रहे है। अब गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंट के विक्टोरिया क्रास गबर सिंह कैंप कौड़िया के समीप स्थित पीर बाबा की मजार के प्रवेश द्वार पर लगे घंटों को अज्ञात बदमाशों ने चोरी कर दिया। मंगलवार को सेना अधिकारियों ने मौके का निरीक्षण किया। वहीं, क्षेत्र में लगातार बढ़ रही चोरी की घटनाओं से क्षेत्रवासियों में रोष व्याप्त है।
विक्टोरिया क्रास गब्बर सिंह कैंप कौड़िया के समीप स्थित सैन्य फार्म परिसर में पीर बाबा की मजार है। मजार परिसर में शिवालय भी है। मंगलवार सुबह जब सेना के जवान मजार के समीप गये तो प्रवेश द्वारा चार घंटे गायब थे और बल्ब भी फूटा हुआ था। इससे आशंका जताई जा रही है कि चोरों ने पहले बल्ब को फोड़ा और उसके बाद घंटों को चोरी कर ले गये। सैन्य अधिकारी पंकज सिंह ने बताया कि मंगलवार सुबह जब सेना के जवान मजार के समीप गए तो उन्हें प्रवेश गेट पर घंटे नहीं दिखाई दिए। बदमाशों ने आरी से लोहे के कुंडों को काटकर घंटों को चोरी कर दिया था। सेना अधिकारियों ने प्रवेश द्वार के बाद मंदिर व मजार के अंदर का भी निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि चोर प्रवेश द्वार पर लगे घंटों को ही ले गए। मजार परिसर में रखा अन्य सामान सुरक्षित है। उधर, कौड़िया क्षेत्र में लगातार बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर क्षेत्रवासियों ने रोष व्यक्त किया है। लोगों का कहना है कि पिछले दो माह से कौड़िया के आसपास चार से अधिक चोरी की घटनाएं हो चुकी हैं। कानून व्यवस्था बेहतर बनाने के दावे करने वाली पुलिस रात्रि गश्त नहीं लगा रही।
नगर निगम क्षेत्र में चोरी की घटना दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। पिछले एक माह के दौरान चार चोरियां हो चुकी है। सबसे पहले चोरों ने सुमन मार्ग पर एक दुकान का ताला तोड़कर वहां से मोबाइल चुराये थे, इसके बाद कौड़िया में एक माह से अधिक समय से बंद घर का दरवाजा तोड़कर चोरी की घटना को अंजाम दिया था। फिर ब्रहमपुर बालासौड़ में करीब एक सप्ताह से बंद घर का दरवाजा तोड़कर घर से नगदी और जेवरात चुरा लिये थे। पुलिस ने सुमन मार्ग और कौड़िया की चोरी का खुलासा तो कर दिया है, लेकिन अभी तक बालासौड़ में हुई चोरी का खुलासा नहीं कर पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!