किशोर उपाध्याय भीम लाल आर्य के समर्थन में धरने पर बैठे

Spread the love

नई टिहरी। घनसाली के पूर्व विधायक भीम लाल आर्य विधानसभा की सड़क, पेयजल, संचार, स्वास्थ्य आदि दर्जनों बुनियादी समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर तीसरे दिन भी डीएम कार्यालय में अनिश्चितकालीन धरने पर समर्थकों के साथ बैठे रहे। गुरुवार को पूर्व पीसीसी अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, प्रताप नगर के पूर्व विधायक विक्रम सिंह नेगी, कांग्रेस जिलाध्यक्ष राकेश राणा, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष दर्शनी भी भीम लाल आर्य के समर्थन में साथ में एक दिवसीय धरने पर बैठे। किशोर उपाध्याय ने कहा कि जनता की मांगों को माना जाना चाहिए। भीम लाल ने जनता की मांगों को प्रशासन के समक्ष रखा है। विकास कामों में कोताही के प्रति भीम लाल का धरना है। धरने का समर्थन करते हुये पूर्व विधायक विक्रम नेगी ने कहा कि बांध निर्माण के कारण विस्थापन के लोग आज भी मार झेल रहे हैं। क्झील के चारों ओर के गांव भूस्खलन सहित कई समस्याओं का सामना कर रहे हैं। सरकार ध्यान नहीं दे रही है। कांग्रेस के विकास कामों के ठप्प करने के लिए जीओ और धन होने के बाद भी बिजली, पानी व सड़क के कामों को रोका जा रहा है। विकास के कामों में भेदभाव कर जनता को नुकसान पहुंचाने का काम बहुमत की सरकार कर रही है। उन्होंन कहा कि बहुमत वाली सरकार जमीन के लोगों की समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दे रही है। धरने पर बैठे पूर्व विधायक भीम लाल आर्य ने कहा कि बांध निर्माण टिहरी के रहने वालों की छाती पर हुआ है। बांध के कारण आ रही परेशानियों का आज भी निस्तारण नहीं किया जा रहा है। बांध के उपर से लोगों के जाने पर समय सीमा की बाध्यता है। जिसे खत्म किया जाना चाहिए। झील क्षेत्र में स्थानीय लोगों को रेत चुगान की छूट दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि उन्हें अभी तक किसी भी तरह का आश्वासन विकास कामों को लेकर नहीं मिला है। उनका धरना जनता की मांगों को लेकर जारी रहेगा। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुरूप पूर्व विधायक भीम लाल आर्य ने डीएम कार्यालय में अपने समर्थकों के साथ अनिश्चतकालीन धरना शुरू किया है। गुरूवार को धरने पर बैठने वालों में शहर कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र नौडियाल, कुलदीप पंवार, सुमन नैथानी, संतोष आर्य, नवीन सेमवाल, ममता उनियाल, आशा रावत,सुंदर सिंह रावत, उदय सिंह विष्ट, चंदन सिंह विष्ट, अरूणोदय सिंह नेगी, देव सिंह विष्ट, बच्ची राम तिवारी, दिनेश प्रसाद गैरोला आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!