सुलभ न्याय के सारथी बने अधिवक्ता: डीएम

Spread the love

नई टिहरी। जिला बार एसोसियेशन के परिचय कार्यक्रम में डीएम मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि अधिवक्ताओं की स्वतंत्रता आंदोलन में बड़ी भूमिका रही है। आंदोलन को दिशा देने में जो भूमिका तब अधिवक्ताओं की रही, वह आज समाज को दिशा देने में होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आज भी समाज व न्याय के बीच की कड़ी अधिवक्ता हैं। वो लोगों को सुलभ व सरल न्याय दिलाने का काम करें। कार्यक्रम में बोलते हुये बार एसोसियेशन के अध्यक्ष शांति भट्ट ने कहा कि प्रदेश व जिले में अपने कामों के बूते डीएम मंगेश घिल्डियाल ने अलग पहचान बनाई है। टिहरी में भी आम लोगों को डीएम का सहयोग मिल रहा है। विकास कामों के साथ ही गरीब व जरूरत मंद लोगों को आसानी से मदद मिल रही है। लाकडाउन में लौटे प्रवासियों को लेकर डीएम घिल्डियाल ने अहम कदम उठाये हैं। जिनका लाभ स्वरोगार के रूप में युवाओं को मिलेगा। इस मौके पर बार एसोसियेशन ने मांग पत्र डीएम को सौंपते हुये 300 वर्ग मीटर भूखंड आवंटित करने, कोषागार में कोर्ट फीस के लिए प्रतिदिन एक आदमी बैठाने, अधिवक्ताओं के कारोबार को देखते हुय राजस्व न्यायलयों को खोलने, कोषागार से होकर आने-जाने वाली सीढ़ीयों को आवागमन के लिए खोलने, सब रजिस्ट्रार और एनआईसी कार्यालय को आपस में अंतरित करने, जिला कार्यालय व जिला न्यायलय परिसर में वाहन पार्किंग बनवाई जाय, न्यायिक कार्यों के लिए मुलाकात का समय त्वरित गति से दिया जाय, सरकारी आवासों में लंबे समय से रह रहे 10 अधिवक्ताओं को आवासों का आवंटन विधिवत किया जाय आदि की मांग की। इस मौक पर वीना सजवाण, माधुरी पांडेय, आनंद बैलवाल, बिरेंद्र सिंह रावत, संजीव, अजय रावत, सीपी चंद, दिनेश, प्रेम सिंह आदि अधिवक्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!