कोहरे ने बढ़ाई कड़कड़ाती ठंड़, जनजीवन पर असर

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। रविवार को कोटद्वार का मौसम बिल्कुल बदला-बदला सा नजर आया। क्योंकि गुरुवार की सुबह तेज कोहरे की चपेट में शहर और ग्रामीण क्षेत्र आ गए। सुबह से छाई हुई कोहरे की तेज धुंध दिन निकलने तक कायम रही। जिससे सारा जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया। कोहरे की सफेद चादर को देखकर आम आदमी घर में कैद होने पर मजबूर हो गए। ठंड बढ़ने के कारण लोग घरों के अंदर रजाई में दुबकने में ही भलाई महसूस कर रहे हैं। सुबह घने कोहरे ने वाहन चालकों व लोगों को परेशान जरूर किया।
रविवार की भोर कड़ाके की ठंड के साथ शुरू हुए कोहरे ने जिंदगी की रफ्तार को धीमा कर दिया है। रविवार को सुबह कोहरा छाया रहा। इससे बस, ऑटो और दुपहिया वाहनों में सफर करने वाले लोग सिकुड़ते नजर आए। ठंड और कोहरे की मार के चलते रविवार को जनजीवन दिनभर अस्त-व्यस्त नजर आया। जनवरी महीने में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। इसका आगाज जनवरी की शुरूआत में ही हो गया था। रही सही कसर 16 जनवरी की रात घने कोहरे ने पूरी कर दी। शनिवार की रात पूरा क्षेत्र घने कोहरे की चादरों से ढकने लगा। रात के 12 बजते-बजते हालात बिगड़ने लगे। अचानक बढ़ी ठंड के कारण आम दिनचर्या काफी प्रभावित हुई और लोग अपने घरों में ही दुबके रहे। मौसम में बदलाव शुरू हो गया है। जहां शनिवार को धूप खिली हुई थी, वहीं रविवार को कोटद्वार शहर घने कोहरे में ढका नजर आया। ठंड का असर दिखा तो लोगों ने गर्म कपड़े खरीदने के लिए बाजारों का रुख किया। दिनभर सर्द हवाएं चलती रही जिसके कारण ठिठुरन बढ़ गई। कोहरे की सफेद चादर बिछी होने की वजह से आलम यह था कि चंद कदमों की दूरी पर कुछ भी साफ नजर नहीं आ रहा था। जिसके चलते वाहन चालकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। रविवार सुबह करीब 11 बजे हल्की धूप निकलने से लोगों को थोड़ा राहत मिली। चिकित्सकों के अनुसार मौसम के इस बदलाव में सतर्क रहने की जरूरत है। सुबह-शाम की ठंड से लोग बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं। श्वास रोगी कोहरे में मार्निग वॉक से परहेज करें और बच्चों को गर्म कपड़े पहनाकर रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!