लैंसडौन वन प्रभाग में फारेस्ट गार्डों की कमी, भर्ती प्रक्रिया पूरी होने का इंतजार

Spread the love

फारेस्ट गार्ड के स्वीकृत 88 पद, कार्यरत 13
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
अरबो रूपये की वन संपदा की हिफाजत की जिम्मेदारी संभाल रहे वन विभाग में फारेस्ट गार्डों का जबरदस्त अकाल चल रहा है। हाथियों और अन्य जंगली जानवरों के लिए प्राकृतिक निवास स्थान के रूप में प्रसिद्ध लैंसडौन वन प्रभाग वन्य जीवों के संरक्षण और प्रबन्धन के लिए जरूरी माने जाने वाले फ्रंटलाइन स्टाफ यानि फारेस्ट गार्ड की कमी से जूझ रहा है। लैंसडौन वन प्रभाग के अधिकारियों के मुताबिक प्रभाग की कोटद्वार, कोटड़ी, दुगड्डा, लालढांग व लैंसडौन रेंज में स्वीकृत पदों के सापेक्ष 75 पदों पर फारेस्ट गार्ड की तैनाती नहीं है। वन विभाग को वर्तमान में चल रही फारेस्ट गार्ड की भर्ती से काफी उम्मीदें है। विभाग इस भर्ती प्रक्रिया का पूरी होने का इंतजार कर रहा है।
लैंसडाउन वन प्रभाग में कोटद्वार, कोटड़ी, दुगड्डा, लालढांग व लैंसडौन रेंज आती है। लैंसडौन वन प्रभाग कुल 43327.60 हेक्टेयर भूमि फैला हुआ है। लैंसडौन रेंज को पर्वतीय रेंज माना जाता है, बाकी चार को तराई रेंज माना जाता है। लैंसडौन वन प्रभाग में फारेस्ट गार्ड के 88 पद स्वीकृत है, लेकिन वर्तमान में मात्र 13 पदों पर ही फारेस्ट गार्ड तैनात है। जिसका विभागीय कामकाज प्रभावित हो रहा है। जंगलों की निगरानी का जिम्मा मुख्य तौर पर फारेस्ट गार्ड पर होता हैं। जो समय-समय पर जंगल का दौरा कर यह पता लगाते रहते हैं कि कहीं पेड़ों की अवैध कटान तो नहीं हो रही। लेकिन जब विभाग में पहले से ही 75 फारेस्ट गार्ड के पद खाली चल रहे हो तो इसकी सुरक्षा का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। लैंसडौन वन प्रभाग की संपदा 43327.60 हेक्टेयर भूमि पर फैली हुई है। जिस पर तरह-तरह के बेशकीमती पेड़-पौधे लगे हुए हैं। जो हमें सिर्फ प्राण वायु ही नहीं देते, बल्कि पर्यावरण को भी साफ-सुथरा रखने में हमारी मदद करते हैं। इसके बावजूद इस वन संपदा की हिफाजत रामभरोसे हो रही है।
लैंसडौन वन प्रभाग के डीएफओ दीपक सिंह का कहना है कि लैंसडौन वन प्रभाग में फारेस्ट गार्ड के 88 पद स्वीकृत है, जबकि वर्तमान में 13 पदों पर ही फारेस्ट गार्ड तैनात है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में फारेस्ट गार्ड की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। फारेस्ट गार्ड की लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित हो गया है। जल्द ही शारीरिक दक्षता की प्रक्रिया शुरू होने की संभावना है। भर्ती प्रक्रिया पूरी होने के बाद फारेस्ट गार्ड के पदों पर तैनाती होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!