मुकदमे पर भड़के कांग्रेसियों ने किया 5 घंटे तक एसपी दफ्तर का घेराव कर धरना-प्रदर्शन

Spread the love

हल्द्वानी। हल्द्वानी में ट्रैक्टर रैली निकालने के दौरान कोविड नियमों के उल्लंघन और ट्रैफिक बाधित करने का मुकदमा दर्ज होने से भड़के कांग्रेसियों ने मंगलवार पांच घंटे तक एसपी दफ्तर का घेराव कर धरना-प्रदर्शन किया। शाम करीब पांच बजे एसएसपी सुनील मीणा की ओर से दर्ज मुकदमे निरस्त करने और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वाले भाजपा नेताओं की भी जांच के आश्वासन के बाद कांग्रेसियों ने धरना खत्म किया। कालाढूंगी विधानसभा के कांग्रेस नेताओं ने किसानों के साथ सोमवार को हल्द्वानी में करीब सवा सौ ट्रैक्टर के साथ रैली निकाली थी। इसमें न सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग की खूब धज्जियां उड़ाई गईं बल्कि पूरा नैनीताल हाईवे का यातायात करीब दो घंटे तक रेंगता रहा। इसके बाद देर रात पुलिस ने रैली में शामिल रहे 130 से अधिक लोगों के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमे दर्ज कर दिए।। मंगलवार कांग्रेसियों ने केस दर्ज किए जाने पर एकजुट होकर एसपी सिटी में हंगामा कर दिया। एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव से कार्रवाई का आश्वासन नहीं मिल पाने पर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी और प्रदेश महासचिव महेश शर्मा की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने कार्यालय के बाहर ही धरना शुरू कर दिया। इस दौरान अफसर उन्हें मनाते रहे लेकिन नेता-कार्यकर्ताओं ने एक न सुनी। कांग्रेसियों का कहना था कि भाजपा नेता भी लगातार सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर रहे हैं, लेकिन उनके खिलाफ पुलिस सत्ता के दबाव में कार्रवाई नहीं कर रही है। इधर घंटों चले शोरशराबे का मामला मामला एसएसपी सुनील मीणा तक पहुंचा तो शाम करीब पांच बजे एसएसपी ने कांग्रेस नेताओं से वार्ता कर कार्रवाई का आश्वासन दिया। कांग्रेस नेता प्रकाश जोशी ने बताया कि एसएसपी ने एक हफ्ते में दर्ज मुकदमों पर विवेचना पूरी कर निरस्त करने और कानून तोड़ने वाले भाजपा नेताओं पर कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद शाम करीब सवा पांच बजे कांग्रेस नेताओं ने धरना खत्म किया। यहां कालाढूंगी ब्लॉक अध्यक्ष कुंदन नेगी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख भोलादत्त भट्ट, प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया, प्रदीप नेगी, ललित जोशी आदि रहे। किसानों पर मुकदमे विधायक बंशीधर भगत के इशारे पर लगाए गए हैं। कांग्रेस नेताओं पर मुकदमे होते तो समझ में आता मगर अपनी समस्या लेकर सड़कों पर उतरने वाले किसानों पर कार्रवाई भाजपा के नेता की ओछी राजनीति बताता है। किसानों पर दर्ज मुकदमे एक हफ्ते में वापस न हुए तो दोबारा आंदोलन किया जाएगा। महेश शर्मा, प्रदेश महासचिव कांग्रेस एसएसपी ने एक हफ्ते में दर्ज मुकदमों की विवेचना पूरी कर उन्हें निरस्त करने और भाजपा नेताओं पर कार्रवाई का आशवासन दिया है। यदि एक सप्ताह के भीतर वायदा पूरा न हुआ तो कांग्रेस दोबारा आंदोलन का रास्ता अख्तियार करेगी। किसानों की आवाज दबाने की कोशिश सफल नहीं होने दी जाएगी। – प्रकाश जोशी, पूर्व राष्ट्रीय सचिव एआईसीसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!