नानकमत्ता में बेकाबू बस ने दंपति को डेढ़ किमी तक घसीटा, दंपति की मौत

Spread the love

संवाददाता, रुद्रपुर। सितारगंज-खटीमा हाईवे पर बेकाबू बस बाइकसवार दंपति को डेढ़ किलोमीटर तक घसीटती हुयी ले गयी। बस के नीचे फंसी बाइक और दंपति को निकालने के लिये पुलिस को जेसीबी मंगानी पड़ी। सीएचसी सितारगंज में पति को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि गर्भवती पत्नी को हायर सेंटर रेफर किया गया। हल्द्वानी ले जाते वक्त महिला ने भी दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि बस चालक नशे में धुत था। उसे हिरासत में ले लिया गया है।
जानकारी के अनुसार श्रीनगर गढ़वाल से जीएमओयू की हिमगिरी बस संख्या यूके15-पीए-0537 श्रीनगर से श्रमिकों को छोड़ने बनबसा आयी थी। बताया जा रहा है कि रविवार सुबह बसचालक अकेला लौट रहा था। रास्ते में नानकमत्ता के निकट ड्यूड़ी गांव में बस ने बाइक यूके06एपी/8946 को टक्कर मार दी। बाइक और उस पर सवार दंपति बस के पहियों में फंस गये, लेकिन चालक ने बस नहीं रोकी और तेजरफ्तार में दौड़ाता रहा। इस बीच एक कारचालक ने बस का पीछा किया और करीब डेढ़ किलोमीटर आगे जाकर किसी तरह बस को रुकवाया। मौके पर पहुंची नानकमत्ता पुलिस ने भागने की कोशिश कर रहे बस चालक पान सिंह निवासी कुंभीचौड़, कोटद्वार गढ़वाल को हिरासत में ले लिया। उधर बाइक और दंपति पहियों में बुरी तरह फंस गये थे। खासी मशक्कत के बाद भी दोनों घायलों को नहीं निकाला जा सका तो पुलिस ने जेसीबी बुलवा ली।
जेसीबी की मदद और जैक लगाकर किसी तरह दंपति को पहियों से निकाला जा सका। बुरी तरह घायल दंपति को सीएचसी पहुंचाया गया, जहां पति को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं, महिला को गंभीर हालत में हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। एसटीएच ले जाते वक्त महिला ने भी दम तोड़ दिया। उधर, हादसे की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे कुलवंत सिंह निवासी पंडरी ने दोनों की पहचान अपनी बहन गुरनाम कौर और जीजा मंजीत सिंह पुत्र बूट सिंह निवासी सुंदरनगर नानकमत्ता के रूप में की। बताया कि दोनों उनके घर पंडरी आये थे और रविवार सुबह अपने घर लौट रहे थे। कुलवंत ने बताया कि दोनों की डेढ़ साल पहले शादी हुयी थी। उन्होंने बताया कि गुरनाम गर्भवती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!