ओवरलोड वाहनों से सड़क पर बने चेंबर क्षतिग्रस्त, लोग परेशान

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोटद्वार नगर निगम क्षेत्र में खोह नदी से पत्थर, रेत, बजरी लेकर जाने वाले ओवरलोड डंपरों से क्षेत्र में
जगह-जगह सड़कें क्षतिग्रस्त हो रही है। वहीं ओवरलोड डंपरों से मार्ग में पत्थर गिर रहे है। जिससे दुर्घटना का खतरा
बना हुआ है। रात्रि के समय आवागमन में लोगों को सबसे अधिक परेशानी हो रही है। वहीं, इन वाहनों से उड़ने वाली
धूल ने भी लोगों की परेशानी बढ़ा रखी है। नगर निगम के गाड़ीघाट में ओवरलोड डंपरों के कारण सड़क की दयनीय
हालत हो गई है। इन डंपरों के कारण सीवर लाइन के जाल जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गये है। जिससे राहगीरों को भारी
परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सब कुछ जानने के बावजूद जिम्मेदार अफसर इस ओर कोई ध्यान देने को
तैयार नहीं हैं।
खोह नदी में आजकल रीवर ड्रेनिंग का कार्य चल रहा है। ठेकेदारों द्वारा नियमों का ताक पर रखकर यह कार्य
किया जा रहा है। प्रशासन की ओर से डम्परों के लिए नदी का ही रास्ता निर्धारित किया गया है। दिन में तो डंपर नदी
के ही रास्ते जा रहे है, लेकिन रात के समय डम्पर गाड़ीघाट से होकर गुजर रहे है। खोह नदी में सूर्यास्त के बाद ही रीवर
डे्रनिंग का कार्य चल रहा है। जबकि नियमानुसार रीवर डे्रनिंग का कार्य सूर्यादय के बाद और सूर्यास्त से पहले होना
चाहिए। रात के समय खोह नदी से खुल्लेआम पत्थर, रेत, बजरी लेकर जा रहे ओवर लोड वाहन शहर के बीच से गुजर
रहे है, लेकिन जिम्मेदारों को यह वाहन दिखाई नहीं दे रहे है। इन ओवर लोड वाहनों के कारण गाड़ीघाट में सीवर लाइन
के जाल जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गये है। जब यह वाहन सड़क से गुजर रहे है तो ओवर लोड होने के कारण वाहन से
रेत, बजरी और पत्थर सड़क पर गिर रहे है। जिस कारण हर समय दुर्घटना का अंदेशा बना हुआ है। स्थानीय लोगों का
कहना है कि डंपर चालक वाहन को तेज गति से चला रहे हैं। ओवरलोड डम्परों के कारण सड़क भी खराब होने लगी है
व दो सीवर के चेंबर भी क्षतिग्रस्त हो गये है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस और परिवहन विभाग के चैक
पोस्ट से यह ओवरलोड डंपर गुजर रहे है, लेकिन उन्हें दिखाई नहीं दे रहे है। अगर कोई दुपहिया वाहन चालक हेलमेट
पहनकर नहीं चलता है तो उसका चालान कर दिया जाता है, लेकिन इन डंपरों के खिलाफ कोई कार्यवाही करने वाला नहीं
है। स्थानीय लोगों ने प्रशासन से रात के समय गाड़ीघाट से गुजर रहे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।
उधर, अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय का कहना है कि राजस्व विभाग और पुलिस विभाग की जिम्मेदारी है कि
निर्धारित समय के अनुसार ही नदियों में रीवर डे्रनिंग का कार्य किया जाय। उन्होंने कहा कि शहर से गुजर रहे ओवर
लोडेड वाहनों के खिलाफ कार्यवाही करने को कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व चौकी प्रभारियों को निर्देशित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!