घनसाली में दी पद्म विभूषण स्व. बहुगुणा को श्रद्धांजलि

Spread the love

नईटिहरी। घनसाली के लोक जीवन विकास भारती बूढ़ाकेदार में विभिन्न संगठनों से जुड़े लोगों ने चिपको आंदोलन के नेता पद्म विभूषण स्व. सुंदरलाल बहुगुणा को श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर सर्वोदयी कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधियों ने स्व. बहुगुणा को याद कर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किए।
शुक्रवार को बूढ़ाकेदार में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में सर्वोदयी नेता सुरेश भाई ने कहा कि स्व. बहुगुणा सर्वोदय नेता स्व. विहारी लाल के काफी करीबी रहे। जिन्होंने चिपको आंदोलन से लेकर टिहरी बांध विरोधी आंदोलन में सहभागिता निभाई। 13 वर्ष की उम्र में वे श्रीदेव सुमन के संपर्क में आकर आजादी के आंदोलन में कूदे और कई बार जेल गए। 1952 में उन्होंने सिलयारा गांव के ऊपर नवजीवन मंडल आश्रम की नींव रखी, जो कि 4 दशकों तक विभिन्न सामाजिक व चिपको आंदोलन का केंद्र रहा। 1992 तक टिहरी बांध विरोध आंदोलन में सक्रिय रहे। जिसमे स्व. बिहारीलाल ने उनका साथ दिया। समय की विडंबना रही कि दोनों महान नेता दो माह के अंतराल पर ही चल बसे। उन्होंने कहा कि स्व. बहुगुणा व बिहारी लाल द्वारा शुरू किए गए सामाजिक आंदोलनों के साथ ही पर्यावरण को बचाने की इस मुहिम को आगे बढ़ाना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस अवसर पर नागेंद्र दत्त, विष्णु प्रसाद, अनंतानंद, अमिता, किशोरीलाल, सुमन नगवां, दयाराम, अनिल मंगलवान, रचना देवी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!