पांच दिनों से अंधेरे में डूबा मोल्टा गांव

Spread the love

जोशीमठ। विद्युत पोल और लाइन क्षतिग्रस्त होने के चलते सीमांत विकासखंड का मोल्टा गांव पांच दिनों से अंधेरे में है। ग्रामीणों ने ऊर्जा निगम के उपखंड अधिकारी को ज्ञापन देकर क्षतिग्रस्त विद्युत पोल और विद्युत लाइन की मरम्मत की मांग की है।
ग्रामीणों का कहना है कि विद्युत आपूर्ति ठप होने से उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बताया कि ग्राम सभा गणांई के निकट भूधसाव से दो डबल पोल और एक सिगल पोल के अलावा विद्युत लाइन भी क्षतिग्रस्त हो गई, जिससे गांव पांच दिनों से अंधेरे में डूबा है। कहा कि यह क्षेत्र जंगल से सटा हुआ है। गांव में जंगली जानवरों की लगातार आवाजाही होने से ग्रामीणों की जान खतरे में है। बताया कि ऊर्जा निगम के लाइनमैन समेत अधिकारियों को कई बार इस बारे में अवगत कराया जा चुका हैं। लेकिन, क्षतिग्रस्त विद्युत पोल और लाइन की मरम्मत नहीं हो रही है। गांव में विद्युत के लिए वैकल्पिक व्यवस्था तक नहीं की गई है। ग्रामीणों ने भूस्खलन क्षेत्र से विद्युत पोलों को तत्काल दूसरी जगह शिफ्ट कर गांव में विद्युत आपूर्ति सुचारू करन की मांग की है। ज्ञापनदाताओं में ग्राम प्रधान विनोद सिंह पंवार, दुलप सिंह, प्रदीप सिंह, दलवीर सिंह, बलवीर सिंह, राधा देवी, शंकर सिंह शामिल हैं।
गोपेश्वर: बांतोली गांव में 10 दिन से बिजली गुल है। ऊर्जा निगम के अधिकारियों से शिकायत के बावजूद गांव में आपूर्ति सुचारू करने के लिए कार्य शुरू नहीं हुआ है। गांव के सामाजिक कार्यकर्ता बलवंत सिंह रावत ने बताया कि विकासखंड कर्णप्रयाग के बांतोली गांव में दस दिन पूर्व बिजली गुल हो गई थी। बताया गया कि यहां के लिए बिजली सप्लाई का ट्रांसफार्मर जल गया है। ट्रांसफार्मर बदलने के लिए ऊर्जा निगम के अवर अभियंता नंदप्रयाग को सूचित कर दिया गया है। लेकिन, वे शिकायत को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।
चमोली जिले में बाधित रहेगी बिजली
श्रीनगर गढ़वाल में हाईटेंशन लाइन की सीटी बदलने के चलते आज चमोली जिले में विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी। ऊर्जा निगम के अधिशासी अभियंता कैलाश कुमार ने बताया कि इन दिनों श्रीनगर गढ़वाल में 66 केवी विद्युत लाइन की सीटी बदलने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आज चमोली जिले के दशोली, जोशीमठ और घाट विकासखंडों में दोपहर 12 बजे से शाम पांच बजे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!