गड्ढों में तब्दील हो रही सड़कें, विभाग को बजट का इंतजार

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

कोटद्वार व भाबर क्षेत्र की अधिकांश सड़कें हो चुकी हैं बदहाल
पिछले दो वर्षों से सड़क मरम्मत को बजट का इंतजार कर रहा विभाग
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार: नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत बाजार व भाबर क्षेत्र में शायद ही कोई ऐसी सड़क हो जहां गड्ढें न दिखाई दें। बदहाल स्थिति में पड़ी सड़कें दुर्घटनाओं को न्यौता दे रही हैं। आए दिन दोपहिया वाहन चालक गड्ढों की चपेट में आने से अस्पताल तक पहुंच रहे हैं। चौंकाने वाली बात तो यह है कि लोकनिर्माण विभाग सड़क मरम्मत के लिए पिछले दो वर्षों से बजट का ही इंतजार कर रहा है।
गढ़वाल के प्रवेश द्वार कोटद्वार में सड़कों की स्थिति बद से बतदर होती जा रही है। वर्षों से मरम्मत के अभाव में कई सड़कों से डामर का नामो निशा ही गायब हो गया है। सबसे बुरी स्थिति भाबर क्षेत्र के अंतर्गत दुर्गापुरी से किशनपुर तक बनी हुई है। कई स्थानों पर बीच सड़क पर ही बड़े-बड़े गड्ढे बने हुए हैं। यही स्थिति कौड़िया-मोटाढांक मार्ग, कौड़िया-दिल्ली फार्म मार्ग, मालगौदाम रोड से सनेह क्षेत्र को जाने वाली सड़क की बनी हुई है। लालपानी निवासी सरेंद्र सिंह, रजत शर्मा ने बताया कि मालगौदाम रोड से सनेह को जाने वाले मार्ग मरम्मत की मरम्मत के लिए कई बार प्रशासन को पत्र दे चुके हैं। लेकिन, अब तक हालात जस के तस बने हुए हैं। स्थिति देखकर लगता है कि विभाग किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजा कर रहा है।

बरसात में होती है समस्या

शहर की बदहाल सड़क पर बरसात के दौरान चलने में सबसे अधिक समस्या होती है। दरअसल, बारिश के दौरान सड़क पर बने गड्ढे पूरी तरह कीचड़ व पानी से भर जाते हैं। जिससे दोपहिया वाहन चालकों को मार्ग पर आने वाले गड्ढों का पता नहीं चल पाता। वहीं, रात के अंधरे में सबसे अधिक दुर्घटनाएं हो रही हैं। यही नहीं जिन स्थानों पर गड्ढे अधिक हो गए तो उन्हें विभाग ने मिट्टी से भर दिया है।

शहर की बदहाल सड़कों के बारे में जानकारी है। कुछ दिन पूर्व ही सड़कों की मरम्मत के लिए मुख्यमंत्री से बजट की मांग की गई है। बजट मिलते ही विभागीय अधिकारियों को कार्य शुरू करने के निर्देश दिए जाएंगे…ऋतु खंडूडी भूषण, विधानसभा अध्यक्ष

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!