सादगी के साथ मनाया श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव

Spread the love

बागेश्वर। भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन जिले में सादगी के साथ मनाया गया। कोरोना का असर महोत्सव पर रहा। जिसके चलते नगर के मुख्य राधाकृष्ण मंदिर पर ताला लटका रहा। हालांकि भक्त मंदिर में आए और उन्होंने गेट के बाहर से ही भगवान की पूजा अर्चना की। मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए पुलिस भी तैनात रही। इधर चैगांवछीना के मुरलीउडियार में भी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव मनाया गया। श्रद्धालुओं ने मंदिर में भजन कीर्तन किए। भगवान की पूजा अर्चना कर सुख और शांति का आशीर्वाद लिया। अधिकांश भक्तों ने घर पर रहकर ही उपवास रखा और पूजा पाठ कर भगवान कृष्ण का जन्मदिन मनाया। श्रीकृष्णजन्माष्टी पर्व पर हर साल नगर के वनखोला स्थित राधाकृष्ण मंदिर में विशाल मेला लगता था। कई दिन पहले से महोत्सव की तैयारियां शुरू हो जाती। तीन या पांच दिन के महोत्सव के दौरान पूजा-अर्चना, भजन-कीर्तन, सांस्कृति कार्यक्रम और प्रतियोगिताओं का आयोजन होता था। इस साल मंदिर कमेटी के लोगों ने कोरोना को देखते हुए मंदिर के कपाट बंद रखने का फैसला लिया। इसके बावजूद सीमित संख्या में भक्त मंदिर में दर्शन को पहुंचे। उन्होंने गेट के बाहर से ही पूजा अर्चना की। हालांकि ग्रामीण क्षेत्रों में मंदिर खुले रहे। मुरलीउडियार के श्रीकृष्ण मंदिर में ग्रामीण क्षेत्रों से श्रद्धालु पहुंचे। हालांकि अन्य सालों की तरह यहां उत्सव का माहौल नहीं था। इसके बावजूद भक्तों ने मंदिर में पूजा अर्चना और भजन कीर्तन कर महोत्सव मनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!