सरकारी हेलीकॉप्टर के इस्तेमाल पर विवादों में आ गई प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा

Spread the love

देहरादून। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के बाद अब प्रदेश सह प्रभारी व भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेखा वर्मा भी राजनैतिक दौरे के लिए सरकारी हेलीकॉप्टर इस्तेमाल करने पर विवादों में आ गई हैं। इस कारण हेलीकॉप्टर के बेजा इस्तेमाल का मुद्दा और गरमाया गया है। गत दिवस भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक अपने पहले कुमांऊ दौरे में, बागेश्वर पहुंचे थे। इस दौरान कौशिक ने राज्य सरकार के हेलीकॉप्टर की सेवाएं ली थी। अब यह भी खुलासा हुआ है कि बीती 21 मार्च को भाजपा प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा भी इसी हेलीकॉप्टर से उत्तराखंड से लखीमपुर खीरी पहुंची थी। सूत्रों के मुताबिक उन्हें छोड़ने के लिए मंत्री हरक सिंह रावत भी गए थे। 21 मार्च की दोपहर, उत्तराखंड सरकार का हेलीकॉप्टर लखीमपुर खीरी पुलिस लाइन में उतरा। यहां जिले के डीएम, एसपी और अन्य भाजपा नेताओं ने उनका स्वागत किया। इसके बाद उत्तराखंड सरकार का हेलीकॉप्टर वापस उड़ गया। इसके बाद रेखा वर्मा फिर सड़क मार्ग से वह मितौली पहुंचीं।
विपक्ष हुआ हमलावर
कांग्रेस नेता गरिमा दसौनी ने रेखा वर्मा की हेलीकॉप्टर के साथ फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए लिखा कि, वर्मा यूपी स्थित अपने संसदीय क्षेत्र में उत्तराखंड सरकार का हेलीकॉप्टर लेकर क्यूं पहुंची हैं। आम आदमी पार्टी ने भी इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए इसे सत्ता का गलत इस्तेमाल करार दिया है। आप नेता रविंद्र जुगरान ने कहा कि एक तरफ प्रदेश सरकार बजट का रोना रोती है, दूसरी तरफ भाजपा नेता अनाधिकृत तरीके से सरकारी हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहे हैं।
उत्तराखंड की सह प्रभारी होने की वजह से मैं वहीं थीं। अचानक गृह जनपद में उत्तर प्रदेश सरकार के चार साल पूरे होने के कार्यक्रम में आना पड़ा। दूरी होने की वजह से हेलीकाप्टर से आना पड़ा। यहां आकर मैंने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। मितौली के कार्यक्रम में शामिल हुई और टीकाकरण की समीक्षा भी की।
-रेखा वर्मा, सह प्रभारी, भाजपा उत्तराखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!