तहसील में सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति लापरवाह बनें लोग

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। तहसील में अपनी शिकायत दर्ज कराने आये लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे है। जो संक्रमण के लिहाज से खतरे का सबब हो सकता है। ई-डिस्ट्रिक से लेकर तहसील परिसर में लोगों की भीड़ लगी रहती है। हालांकि तहसील के कर्मचारी लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील करते है, लेकिन लोगों पर इसका कोई असर देखने को नहीं मिल रहा है।
अनलॉक वन शुरू होने के साथ ही सरकारी नियमों की धज्जियां उड़ने लगी हैं। बाजारों की प्रमुख दुकानों से लेकर बैंकों और मुख्य डाकघर तक लोग सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति लापरवाही दिख रहे हैं। कोरोना संकट के बीच सरकार ने आम आदमी को राहत देने के लिए अनलॉक वन की शुरूआत की है। इसमें बाजार खुल गये हैं और कारोबार शुरू हो गया है, लेकिन छूट मिलने के चलते लोगों ने सरकारी नियमों का पालन करना बंद कर दिया है। बाजार में प्रमुख दुकानों पर जहां लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। वहीं, बैंकों, तहसील और डाकघर में भी लोग एक दूसरे से सटे नजर आ रहे हैं। गुरूवार को तहसील में कुछ ऐसा ही हाल रहा। गुरूवार को तहसील में उपजिलाधिकारी को अभिभावक फीस माफी को लेकर ज्ञापन देने आये थे। इस दौरान अभिभावक एक-दूसरे के पीछे बिना सोशल डिस्टेंसिंग के खड़े दिखाई दिए। अभिभावकों को देखकर ऐसा लग ही नहीं रहा था कि प्रदेश व देश में कोरोना महामारी चल रही है। उधर, उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है। लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई भी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!