ज्वाल्पा धाम में हुई कालरात्रि की पूजा, भक्तों ने नवाया शीश

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

पौड़ी जिले में स्थित ज्वाल्पा धाम में विधि विधान से साथ हुई पूजा अर्चना
जयंत प्रतिनिधि
कोटद्वार
पौड़ी जिले में सतपुली- पौड़ी मार्ग पर स्थित माता के पौराणिक ज्वाल्पा धाम में अष्टमी पर मां कालरात्रि की पूजा-अर्चना की गई। सैकड़ों की संख्या में पहुंचे भक्तों ने मां भगवती से अपने परिवार के लिए सुखशांति की कामना की।
ज्वालपा धाम के पुजारी भास्कर ममगाईं ने बताया कि ज्वालपा धाम से देश-विदेश के सैकड़ों श्रद्धलुओं की आस्था जुड़ी हुई है। यहां हर रोज हजारों भक्त पहुंचकर माता की पूजा अर्चना करते हैं। नवरात्रि के मौके पर मंदिर में विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। बताया कि बुधवार को ज्वालपा धाम में कालरात्रि की पूजा की गई। जिसके तहत दुर्गा सप्तशती के प्रथम अध्याय से 13 वें अध्याय तक का पाठ किया गया। भास्कर ममगाईं ने बताया कि पूजा अर्चना के दौरान पंड़ित भूषण अण्थ्वालकी ओर से हस्त क्रिया में सहयोग किया गया। मुख्य यजमान रमेश थपलियाल थे। कहा कि कालरात्रि को प्रसन्न करने के लिए प्रतीकात्मक पेठा की बलि भी दी गई। कहा कि नवरात्रि सनातन संस्कृति में शक्ति उपासना का पर्व है। कालरात्रि पूजा के साथ-साथ देवी के दास ढोल और दमाऊ पर देवी की वार्ताएं गया/बजा रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!