परिजनों ने जताई अपहरण कर हत्या की आशंका, दी तहरीर

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

कोटद्वार-दुगड्डा के मध्य खोह नदी के तट से बरामद हुए थे बच्चों के शव
मंगलवार को विनसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूडी भूषण ने परिवार को बंधाया ढांढस
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार: गोविंदनगर निवासी तीन बच्चों की मौत के मामले उनके स्वजनों ने अपहरण व हत्या की आशंका जताते हुए कोतवाली में तहरीर दी है। वहीं, मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष ने गोविंदनगर पहुंची पीड़ित परिवार को ढांढस बांधा। उन्होंने पुलिस को भी पूरे मामले की हर एंगल से जांच करने के निर्देश दिए।
मालूम हो कि नौ सितंबर को गोविंदनगर निवासी आर्यन, नमो व रौनक घर से स्कूटी में सवार होकर घूमने के लिए निकले थे। लेकिन, देर शाम तक भी वह घर वापस नहीं लौटे। पुलिस ने भी गुमशुदगी दर्ज कर बच्चों की तलाश शुरू कर दी थी। सीसीटीवी फुटेज में बच्चें शुक्रवार को स्कूटी से कुंभीचौड़ क्षेत्र में घूमते हुए नजर आए। लेकिन, इसके बाद उनकी कोई लोकेशन नहीं मिली। वहीं, सोमवार सुबह वन कर्मियों ने पुलिस को पाचवें मील के समीप खोह नदी के तट पर बरसाती नाले के पास एक स्कूटी व बच्चों के शव मिलने की सूचना दी। पुलिस के साथ मौके पर पहुंचें बच्चों के परिजनों ने शवों की शिनाख्त की। पुलिस प्रथम दृष्ट्य मौत का कारण सड़क दुर्घटना बता रही थी। लेकिन, मामले में मंगलवार को तीनों बच्चों के परिजनों ने अपहरण कर हत्या की आशंका जताते हुए कोतवाली में तहरीर दी। तहरीर में कहा गया कि परिवार को अंदेशा है कि बच्चों के अपहरण के बाद उनकी हत्या कर शवों को खोह नदी के तट पर फेंका गया है। बताया कि घटनास्थल के समीप बरामद स्कूटी के पीछे का हिस्सा मामूली रूप से क्षतिग्रस्त है। जबकि, यदि सड़क दुर्घटना होती तो स्कूटी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त होती। वहीं, मंगलवार सुबह दस बजे विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूडी भूषण भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची। विधानसभा अध्यक्ष ने पुलिस व प्रशासन को पूरे मामले की हर एंगल से जांच करने के निर्देश दिए। कहा कि आगे इस तरह की घटना न हो इसके लिए शहर की सीमाओं पर लगे सीसीटीवी कैमरों को बेहतर रखने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!