टिहरी जिले में 11 नए मामले सामने आए, सभी लोग महाराष्ट्र से वापस लौटे थे

Spread the love

संवाददाता, नई टिहरी। टिहरी जिले में कोरोना संक्रमण के 11 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें चार बच्चे भी शामिल हैं। संक्रमित सभी लोग महाराष्ट्र से वापस लौटे थे, जिसके बाद इन्हें ऋ षिकेश के कैलाश आश्रम में दस दिन तक क्वारंटाइन किया गया था और फिर घर भेज दिया गया। मंगलवार को आई रिपोर्ट में इन सभी में कोरोना की पुष्टि हुई है। प्रवासियों के लौटने के बाद से पहाड़ी जिलों में भी कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ने लगा है। टिहरी जिले में भी दिन-ब-दिन मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। मंगलवार को यहां छह साल, नौ साल, 12 साल की बच्ची और आठ साल के बच्चे समेत 11 संक्रमित पाए गए। सभी को कोविड सेंटर नई टिहरी लाने की तैयारी की जा रही है। बता दें कि 10 मरीज भिलंगना ब्लॉक और एक जाखणीधार ब्लॉक का रहने वाला है, जो 18 मई को महाराष्ट्र से आए थे और दस दिन तक ऋ षिकेश के कैलाश आश्रम में क्वारंटाइन रहे थे। उसके बाद 27 मई को पूर्णानंद में इन सभी के सैंपल लिए गए और घर भेज दिया गया। फिलहाल, संक्रमितों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री निकाली जा रही है।
टिहरी जिले में मरीजों की का आंकड़ा 88 तक पहुंच गया है। अभी तक जिले में तीन कंटेनमेंट जोन थे, लेकिन 11 और लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद प्रशासन अब पांच और कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी की जा रही है। जखन्याली, झेलम खंडोगी जाखणीधार, ग्वाना मल्ला भिलंगना, अखोड़ी भिलंगना और ढुंग धार गांव भिलंगना में पांच कंटेनमेंट जोन बनाए जाएंगे। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि सभी संक्रमितों को कोविड सेंटर में भर्ती कराया जा रहा है।
ये बनाए गए हैं कंटेनमेंट जोन
-भाटी गांव, मगधार, घनसाली
-लामणीधार गांव, जाखणीधार
-क्यूलागी गांव, थौलधार ब्लॉक
टिहरी में कोरोना ग्राफ ,
कुल केस 88
-स्वस्थ 05
-एक्टिव 83

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!