उत्तर भारत में प्रचंड शीतलहर, मैदानों में भी पारा शून्य से नीचे पहुंचा

Spread the love

नई दिल्ली,एजेंसी। समूचे उत्तर भारत में प्रचंड शीतलहर तथा घने कोहरे के कहर से आम जनजीवन पर असर पड़ा तथा हवाई, रेल और सड़क सेवा सुबह तक प्रभावित रही। ठंड का आलम यह रहा कि मैदानों तक में पारा शून्य से नीचे पहुंच गया और माउंट आबू में पारा शून्य पर रहा। मौसम केंद्र के अनुसार, शनिवार से मौसम में बदलाव के आसार हैं तथा कहीं कहीं गरज के साथ छींटे पड़ने और 03 जनवरी को अनेक स्थानों पर बारिश होने की संभावना है। चार जनवरी तक मौसम खराब रहेगा।
हरियाणा में कड़ाके की ठंड तथा घने कोहरे के चलते नारनौल शून्य दशमलव दो डिग्री, हिसार एक डिग्री, रोहतक दो डिग्री, अमृतसर दो डिग्री, फरीदकोट शून्य के आसपास और बठिंडा का पारा एक डिग्री रहा। नारनौल, सिरसा और रोहतक को छोड़कर शेष समूचे पश्चिमोत्तर में घना कोहरा छाया रहा जिससे हवाई उड़ानें प्रभावित रहीं। चंडीगढ़ में भीषण ठंड तथा घने कोहरे से अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से एक भी उड़ान नहीं छूटी और न आई जिससे यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ी। लंबी दूरी तथा कम दूरी की ट्रेनें भी घंटों देरी से चल रही हैं। इसके अलावा सुबह तक सड़क यातायात रेंगता नजर आया। दोपहर बाद हल्की धूप निकली जिसने ठंड से मामूली सी राहत दी।
दिल्ली का पारा शिमला से कम रहा और चंडीगढ़ के बराबर रहा। शिमला में छह डिग्री, अंबाला चार डिग्री, करनाल तीन डिग्री, भिवानी तीन डिग्री, लुधियाना चार डिग्री, पटियाला चार डिग्री, गुरदासपुर, हलवारा तीन डिग्री, आदमपुर तीन डिग्री, दिल्ली एक डिग्री, श्रीनगर शून्य से कम छह डिग्री, जम्मू चार डिग्री रहा।
मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान के चूरू शून्य से 0़2 डिग्री सेल्सियस से कम न्यूनतम तापमान के साथ प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा। वहीं राज्य के एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू में चार डिग्री के सुधार के साथ न्यूनतम तापमान जमाव बिंदू यानी शून्य डिग्री दर्ज किया गया। वहीं, राज्य के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक वृद्घि होने से लोगों को कड़ाके की सर्दी से राहत मिली है। अधिकतर हिस्सों में अधिकतम तापमान 17़9 डिग्री सेल्सियस से लेकर 22 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया गया।
हरियाणा और पंजाब में शुक्रवार को भी शीतलहर का प्रकोप रहा और हिसार में न्यूनतम तापमान शून्य से 1़2 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया। मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दोनों राज्यों में सुबह में घना कोहरा छाए रहने से दृश्यता काफी घट गई। उन्होंने बताया कि विभिन्न स्थानों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे चला गया। हरियाणा के हिसार में गुरुवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से आठ डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया। दोनों राज्यों में हिसार सबसे ठंडा स्थान रहा। दोनों राज्यों की साझा राजधानी चंडीगढ़ में 6़1 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा। पंजाब में भी ठंड का प्रकोप बना हुआ है। फरीदकोट में शून्य से नीचे 0़2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!