वन विभाग के अधिकारियों पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। भारतीय जनता पार्टी भाबर मंडल के कार्यकर्ताओं ने लैंसडौन वन प्रभाग के डीएफओ के कार्यालय में उनका घेराव करते हुए वन विभाग के अधिकारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। उन्होंने जल्द ही अधिकारियों पर कार्यवाही न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि वन विभाग के एक वन दरोगा के संरक्षण में अवैध खनन चल रहा है।
मंगलवार को डीएफओ दीपक कुमार को एक रेंजर और एक वन दरोगा के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन सौंपा। कार्यकर्ताओं ने कहा कि क्षेत्र की जनता लंबे समय से अवैध खनन से परेशान है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि उक्त अधिकारियों द्वारा मनमानी चलाते हुए एंट्री के नाम पर प्रत्येक टैक्टर से 10 से लेकर 15 हजार रूपये तक मांगे जा रहे हैं और न देने पर उनके खिलाफ कार्रवाई व मुकदमा दर्जा करने की धमकी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि वन विभाग के अधिकारियों के द्वारा कार्रवाई के दौरान भेदभाव किया जा रहा है। विभाग के अधिकारी केवल ट्रैक्टर वालों को ही पकड़ा जा रहा है, जबकि डंपर वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। नदियों से उपखनिज चोरी करने वालों के खिलाफ एक समान कार्यवाही की जानी चाहिए। कार्यकर्ताओं ने चेतावनी देते हुए कहा कि ऐसे अधिकारियों के खिलाफ जल्द ही कार्रवाई नहीं हुई तो वे उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। ज्ञापन देने वालों में भाबर मंडल अध्यक्ष चन्द्रमोहन जसोला, महामंत्री गौरव जोशी, प्रकाश बलोधी, मोहित कंडवाल, रजनीश बेबनी, आशु नेगी, राहुल जोशी, मनमोहन पांडे, सुमित नेगी आदि मौजूद रहे।
डीएफओ दीपक कुमार ने भाजपा कार्यकर्ताओं को कार्यवाही का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि नदी क्षेत्र में उपखनिज चोरी करने पर ट्रैक्टर व डंपर वालों के खिलाफ समान रूप से कार्यवाही की जाएगी। किसी को भी नहीं बक्शा जाएगा। उन्होंने कहा कि वन विभाग के अधिकारी वन क्षेत्र में डंपर भी पकड़ सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!