वृक्ष लगाने के साथ ही संरक्षण की प्रतिज्ञा लेनी होगी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। मेहरबान सिंह कण्डारी सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कॉलेज कोटद्वार की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा पर्यावरण सप्ताह के अन्तर्गत विद्यालय प्रबन्ध समिति,
विद्यालय परिवार द्वारा विद्यालय परिसर में आम, आंवला, सिरस, लींची, बांस, अमरूद आदि प्रजाति के पौधों का रोपण किया। साथ ही विद्यालय के सभी छात्र-छात्राओं
ने अपने-अपने घरों पर रहकर तुलसी, गिलोई, अमरूद, नीम आदि प्रजाति के पौधे रापे।
इस अवसर पर विद्यालय के व्यवस्थापक विष्णु कुमार अग्रवाल ने सभी से आग्रह करते हुए कहा कि वर्तमान समय में सभी प्रकार की पर्यावरण सम्बन्धी
समस्याआें का एक मात्र समाधान वृक्षारोपण ही है। हमें वृक्ष लगाने के साथ-साथ उसके संरक्षण की भी प्रतिज्ञा लेनी चाहिए। साथ ही हमें जलवायु परिवर्तन व
ग्लोबल वार्मिंग को कम करने के लिए अधिक से अधिक वृक्षारोपण करना चाहिए तथा अपने-अपने घरों को इको फ्रेन्डली बनाकर प्रकृति के प्रति संवेदनशील बनना
होगा। विद्यालय के संरक्षक मोहन सिंह रावत ने कहा कि हरेला पर्व उत्तराखण्ड सरकार द्वारा पर्यावरण संरक्षण की दिशा में उठाया गया सराहनीय पहल है। हमारे हिन्दू
धर्म में विभिन्न वृक्षों की पूजा होती है जिसका सीधा अर्थ मनुष्य को प्रकृति प्रेमी बनाना है। विद्यालय के प्रधानाचार्य चन्दन सिंह नकोटी ने कहा कि हरेला पर्व के
अवसर पर विद्यालय परिवार व समस्त छात्र-छात्राओं ने लगभग 300 फलदार व औषधीय पौधों का रोपण व उनके संरक्षण का संकल्प लिया। उन्होनें कहा कि हमें
पर्यावरण को बचाने के लिए वृक्षारोपण के साथ-साथ उनका संरक्षण भी करना होगा। इस मौके पर सह-व्यवस्थापक राजदीप माहेश्वरी, जिला प्रचारक पारस, हरिचरण
चतुर्वेदी, सोमप्रकाश बलोधी, हरिराज चौहान, परमानन्द बलोदी, सत्यप्रकाश थपलियाल, सत्य प्रसाद बड़ोला आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!