टिहरी में युवाओं ने की भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की मांग

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

नई टिहरी। बेरोजगार युवाओं और छात्र-छत्राओं ने यूकेएसएसएससी पेपर लीक और विधानसभा में बैकडोर से हुई नियुक्तियों के विरोध में बौराड़ी से कलेक्ट्रेट तक पैदल रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन जताया। उन्होंने सीएम से यूकेएसएसएसी और विधानसभा में हुई बैकडोर नियुक्तियों की सीबीआई से जांच कराने की मांग की। सोमवार को नई टिहरी के बेरोजगार युवाओं और छात्र-छात्राओं ने बौराड़ी के साई चौक से बौराड़ी बाजार, मोलधार, नई टिहरी बाजार, विधि विहार होते हुये कलक्ट्रेट तक नारेबाजी करते हुये रैली निकाली। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष मोहन सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड के नेता और अधिकारी मोटी-मोटी रकम लेकर बेरोजगार युवाओं के हकों पर डाका डाल रहे हैं। कहा देवभूमि के नाम से पहचान रखने वाले उत्तराखंड को नेताओं और अधिकारियों ने भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा दिया है। उन्होंने कहा कि मेहनती युवा और छात्र अपने भविष्य को लेकर परेशान है, लेकिन नेता और अधिकारी मिलकर मोटा पैसा लेकर सरकारी नौकारियों का पेपर लीक करवा रहे हैं, और बैकडोर से अपने चेहतों को नौकारी दे रहे हैं। प्रतापनगर के ब्लक प्रमुख प्रदीप रमोला ने कहा कि जिस आयोग को सरकारी नौकारी के लिये निष्पक्ष माना जाता रहा है, उसी आयोग में राज्य का सबसे बड़ा भर्ती घोटाला सामने आया है, जिससे आयोग की कार्य प्रणाली सवालों के घेरे में है, राज्य के होनहार युवाओं के जीवन के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। रैली में शामिल युवाओं और छात्रों ने एक सुर में सीएम धामी से दोनों प्रकरणों की सीबीआई जांच कराने तथा जांच में दोषी पाये जाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में सीएम को ज्ञापन भी प्रेषित किया।
प्रदर्शन करने वालों में जिपंस हितेश चौहान, प्रवीन रावत, शंकर नेगी, ज्योति रावत, अन्नू भट्ट, काजल, प्रदीप शाह, मंजीत बगारी, विकास शाह, सतरुपा भट्ट, प्रकाश रावत, सांरगी खरोला, रक्षा शाह, शुभम पाल, विकास शाह, मोहित राणा सहित कई छात्र शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!