थानाध्यक्ष ने रक्तदान कर बचाई 14 वर्षीय छात्रा की जान

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी।
कोरोना संक्रमण काल में जहां पुलिस कानून व्यवस्था बनाने के साथ ही असहाय व जरूरतमंदों की मदद के लिए दिन-रात जुटी हुई है। वहीं मानवीय संवदेनाओं को बचाने में भी लगे हैं। इसका जीता जागता उदाहरण पेश किया है सतपुली थानाध्यक्ष संतोष पंैथवाल ने। पैंथवाल ने रक्तदान कर 14 वर्षीय एक छात्रा को नया जीवन दिया है।
कोरोना काल में जनपद पौड़ी पुलिस द्वारा हर सम्भव वह सभी कार्य किये जा रहे है जिससे आम व्यक्ति को इस आपदा में हर प्रकार की मदद मिल सके, चाहे वह बुजर्ग और असहाय लोगों को राशन की किट पहुंचानी हो, किसी जरुरत मंद को ऑक्सिजन सिलेंडर उपलब्ध करवाना हो या फिर कोरोना संक्रमण से मृत व्यक्ति का दाह संस्कार करना हो। ऐसा ही एक मानवीयता से जुड़ा श्रेष्ठ कार्य थाना सतपुली में देखने को मिला है। जहां पर मंगलवार को मलेठीसैंण निवासी 14 वर्षीय छात्रा एनीमिया ( खून की कमी) बीमारी से पीड़ित थी। छात्रा का उपचार हंस फाउंडेशन अस्पताल चमोलीसैंण सतपुली में चल रहा था। छात्रा को रक्त की आवश्यकता थी। लेकिन कोई रक्तदाता नहीं मिल रहा था। ऐसे में इस बात की सूचना जब थानाध्यक्ष सतपुली संतोष पैंथवाल को लगी तो वह तत्काल ही अस्पताल के लिये रवाना हो गए और उनके द्वारा छात्रा के लिये रक्त दान किया गया। थानाध्यक्ष संतोष पंैथवाल ने कहा कि रक्त दान करना खुद के स्वास्थ्य के लिये भी लाभकारी होता है। हम सभी को ऐसी घड़ी में रक्त दान करने के लिये सदैव तत्तपर रहना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!