निजी कार पर ड्राइविंग सिखाने पर ट्रेनिंग स्कूल के 5वाहन सीज

Spread the love

देहरादून। निजी कार पर ड्राइविंग सिखा रहे ट्रेनिंग स्कूल की पांच कारों को परिवहन विभाग की प्रवर्तन टीम ने सीज कर दिया। जनपद में यातायात व परिवहन नियम तोड़ने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध परिवहन विभाग की प्रवर्तन टीम ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की। इस दौरान एक डग्गामार बस भी सीज की गई। ऋषिकेश-टिहरी मार्ग पर निजी बस में ज्यादा किराया लेने की शिकायत मिलने पर बस का चालान किया गया। सुबह से शाम तक चली कार्रवाई में 55 वाहन का चालान किया गया। इस दौरान ओवरलोड बस और विक्रम समेत डंपर पर भी कार्रवाई हुई। आरटीओ प्रवर्तन संदीप सैनी के आदेश पर देहरादून शहर, विकासनगर व ऋषिकेश क्षेत्र में सुबह से शाम तक अभियान चला। इस दौरान 20 दुपहिया, दो कार समेत 11 भारी वाहनों के चालान भी किए गए। इस दौरान शहरभर में पांच वाहन ऐसे सीज हुए जो निजी वाहन होते हुए व्यावसायिक ढंग से आवेदकों को ड्रार्इंवग सिखाने का काम कर रहे थे। दून से दिल्ली जा रही डग्गामार बस भी आशारोड़ी पर सीज की गई जबकि यात्रियों को रोडवेज बस से भेजा गया। इस दौरान बिना सीट बेल्ट कार चलाने वाले दो और वाहन चलाते वक्त मोबाइल का प्रयोग कर रहे नौ चालक का चालान किया गया। दूसरे राज्य में पंजीकृत वाहन को देना होगा उत्तराखंड का टैक्सº उत्तराखंड में रहकर दूसरे राज्य में पंजीकृत वाहन चलाने वालों को अब एमवी एक्ट के तहत उत्तराखंड का टैक्स जमा करना होगा। आरटीओ संदीप सैनी ने बताया कि जो ऐसे लोग हैं उन्हें नियमों के मुताबिक अब अपने वाहन को उत्तराखंड में पंजीकरण के शुल्क का अंतर जमा कराना होगा। विभाग इस पर कार्रवाई की तैयारी कर रहा। अभी दो माह की मोहलत दी जा रही है कि लोग खुद की मर्जी से वाहन के पंजीकरण शुल्क को जमा करा दें।
58 चालक का लाइसेंस किया निलंबित: नियमों को तोड़ने वाले 58 चालकों का ड्रार्इंवग लाइसेंस अगले तीन माह के लिए निलंबित करने की संस्तुति प्रवर्तन टीम की ओर से की गई है। आरटीओ संदीप सैनी ने बताया कि प्रदूषण जांच व हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट को लेकर भी चेकिंग चल रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!