आदमखोर गुलदार पिजरे में कैद

Spread the love

चमोली। जोशीमठ के पैंका गांव में आदमखोर गुलदार शिकार के लालच में पिजरे में कैद हो गया। बीते सोमवार को जोशीमठ नगर के पैका गांव निवासी बुजुर्ग को गुलदार ने उस समय अपना निवाला बनाया जब बुजुर्ग राशन लेने के लिए गांव के पैदल रास्ते से बाजार की ओर आ रहे थे। इससे पूर्व भी एक मजदूर को गुलदार अपना निवाला बना चुका था। गुलदार के हमले से दो व्यक्ति भी घायल हुए थे। गुलदार को हरिद्वार स्थित रेस्क्यू सेंटर भेज दिया गया है। गुलदार आतंक से क्षेत्रवासियों में आक्रोश था। जिसके बाद नंदादेवी राष्ट्रीय पार्क के एक अधिकारी सहित 30 वनकर्मियों की टीम को क्षेत्र में तैनात किया गया। साथ ही सोमवार को देर रात वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों के साथ मिलकर पैंका गांव के जंगल में घटनास्थल पर ही पिजरा लगाकर उसमें एक बकरी बांधी। मंगलवार की सुबह बकरी के शिकार के लिए गुलदार मौके पर पहुंचा और पिजरे में कैद हो गया। नंदादेवी राष्ट्रीय पार्क के उप वन क्षेत्राधिकारी बीएल आर्य ने बताया कि सोमवार देर रात भी गुलदार के पिजरे के आसपास मौजूद होने के प्रमाण मिले थे। लेकिन, सुबह के समय गुलदार पिंजरे में फंस गया। थाना प्रभारी गोविदघाट बृजमोहन सिंह राणा का कहना है कि गुलदार के हमले के बाद पुलिस भी सतर्क है। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर इन दिनों सड़क चौड़ीकरण का काम चल रहा है। कार्य में सैकड़ों मजदूर जुटे हैं। गुलदार के संभावित खतरे को देखते हुए पुलिस भी वन कर्मियों के साथ हाईवे पर गश्त कर रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!