एयर इंडिया के अफिस में 20 जुलाई से पूरी क्षमता के साथ होगा काम, नहीं पहुंचने पर लगेगा एबसेंट

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। इंडियन एयरलाइंस एयर इंडिया ने बुधवार को इस बात की घोषणा की है कि उनके सभी अफिस में 20 जुलाई से पूरी क्षमता के साथ काम होगा। इसके साथ ही, आगे कहा गया कि जो काम पर नहीं आएगा उसे अनुपस्थित करार दिया जाएगा।
हालांकि, इसमें कुछ ऐसे कर्मचारियों को टूट दी गई है जो कंटनमेंट जोन में है, लेकिन उनसे कहा गया है कि कंटेनमेंट के बारे में स्थिति अफिस को बताते रहे। उन कर्मचारियों के लिए वर्क फ्रम होम पर विचार किया जा सकता है जो मेडिकल कंडिशन के चलते हाई रिस्क पर हैं, या गर्भवती महिलाएं और जो कर्माचरी कंटेनमेंट जोन में हैं।एयरलाइंस ने कहा, अब यह फैसला का गया कि 20 जुलाई से एयर इंडिया के अफिस में पूरी क्षमता के साथ काम होगा और कोविड-19 की स्थिति के चलते कोई अलग से रोस्टर नहीं होगा। जो कर्मचारी अफिस नहीं आएंगे उन्हें लीव के लिए अप्लाई करना होगा या फिर गैर-हाजिर करार दिया जाएगा।
इसके साथ ही, सभी विभाग के प्रमुखों से कहा गया कि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन सुनिश्चित हो, साथ में पर्याप्त सैनिटाइजेशन के साथ अन्य संबंधित उपायों का कड़ाई से पालन किया जाए।इसके साथ ही, एयर इंडिया ने अपने कुछ कर्मचारियों को छह महीने से लेकर पांच साल तक जबरन टुट्टी पर भेजने की तैयारी कर ली है। कंपनी ने सोमवार को जारी आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी। इस दौरान टुट्टी पर भेजे गए कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया जाएगा।
आधिकारिक आदेश में कहा गया, श्यह योजना कंपनी के स्थायी कर्मचारियों को बिना वेतन छुट्टी पर भेजने के लिए शुरू की जा रही है। इसमें कर्मचारी छह महीने से लेकर पांच साल की अवधि तक के लिए छुट्टी पर भेजे जा सकते हैं।श् यह योजना कंपनी के स्थायी कर्मचारियों के लिए लागू होगी। आदेश में कहा गया, श्सात जुलाई, 2020 को संपन्न हुई बोर्ड अफ डायरेक्टर्स की 102वीं बैठक में इस योजना को मंजूरी दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!