बालिकाओं को लक्ष्य हासिल करने के लिए मेहनत करनी होगी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर 24 बालिकाओं को प्रमाण पत्र व किशोरी किट एवं वैष्णवी किट वितरित किये गये। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि बालिका हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। आगे भी बालिकाओं को हिम्मत और लगन के साथ कार्य करना चाहिए। उन्होंने कहा कि बालिकाओं को अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए मेहनत करनी होगी, जिससे वह अपना लक्ष्य हासिल करने में सफलता प्राप्त कर सके। एसआई टीना रावत ने कहा कि पुलिस लोगों की सहायता के लिए कार्य करती है। उन्होंने कहा कि बालिकाओं को हिंसा के प्रति सचेत रहना चाहिए, जिससे बालिकाएं सुरक्षित रह सके। एसआई टीना रावत ने बालिकाओं को पुलिस भर्ती तैयारी की जानकारी दी।
विकास भवन सभागार पौड़ी में रविवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर बाल विकास विभाग के तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम मेरु सुपन्यूं मेरो लक्ष्य में मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया। कार्यक्रम में साक्षी डोभाल द्वारा पापा में जीना चाहती हूं गीत की प्रस्तुति दी गई। उन्होंने इस गीत से बालिकाओं को मजबूत होने के प्रति जागरूक किया। मुख्य विकास अधिकारी ने बालिकाओं से कहा कि हर कार्यक्रम में हिस्सा लेना चाहिए, जिससे हर क्षेत्र में हो रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त हो सके। उन्होंने बालिकाओं से शिक्षा के क्षेत्र एवं अन्य तरह की गतिवधियों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि हर फील्ड में कार्य करने के लिए मन में दृढ़ संकल्प एवं मेहनत जरूरी है। उन्होंने बालिकाओं से हर क्षेत्र में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने को कहा। इस अवसर पर जिला सेवायोजन अधिकारी मुकेश रयाल ने कहा कि बालिकाओं को हर फील्ड में नौकरी के लिए प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सेवायोजन विभाग द्वारा फरवरी माह में भर्ती परीक्षा की तैयारी ब्लॉकवार की जाएगी। इस तैयारी में बालिका भी हिस्सा लेकर अपना भविष्य बना सकती हैं। सूचना एवं लोक संपर्क विभाग से अतिरिक्त सूचना अधिकारी भजनी भंडारी ने कहा कि बालिकाओं को हर क्षेत्र में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए। लक्ष्य को लेकर सफलता की ओर बढ़ना चाहिए। जिला बाल विकास अधिकारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि कन्या नन्दा गौरव योजना का लाभ लेने के लिए 20 जनवरी से तिथि बढ़ाकर 31 जनवरी कर दी गई है। जो भी बालिकाएं इस योजना से वंचित रह गए हैं तो वह 31 जनवरी तक बाल विकास कार्यालय में अपने दस्तावेज जमा कर सकते हैं। इस अवसर पर महिला चिकित्साधिकारी पूनम सक्सेना, बाल विकास परियोजना अधिकारी चन्द्रकान्ता काला, बाल विकास से अमृता रावत, रमन पोली सहित आकांक्षा, प्राची, पूजा नेगी, काजल, मिनाक्षी नेगी, करिश्मा बिष्ट, साक्षी नेगी, अनामिका डोभाल, तनुजा रावत, आस्था आदि मौजूद थे।

ऑनलाइन काव्य प्रतियोगिता में यशोदा ने मारी बाजी
सतपुुली। रविवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजकीय महाविद्यालय सतपुली द्वारा नमामि गंगे समिति के अंतर्गत बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ विषय पर ऑनलाइन काव्य (कविता) प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता में महाविद्यालय के तीनों संकायों के छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। यशोदा बीए पंचम सेमेस्टर ने प्रथम स्थान, मेघा बीकॉम पंचम सेमेस्टर ने द्वितीय स्थान और अंबिका बीएससी प्रथम वर्ष ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. संजय कुमार ने सभी छात्र-छात्राओं के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताओं में छात्र-छात्राओं को बढ़चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए। निर्णायक की भूमिका डॉ. राकेश इस्टवाल, डॉ. अवधेश कुमार उपाध्याय, डॉ. कपिल देव थपलियाल, रीना शाह ने निभाई। इस मौके पर डॉ. दीप्ति, डॉ. हिमानी, डॉ. वीर सिंह, डॉ. मोहन कुकरेती, डॉ. संत कुमार, ईश मोहन कुकरेती आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!