बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा देने वाली भाजपा सरकार में सुरक्षित नहीं बेटियां

Spread the love

अपराधों पर अंकुश लगाने में कोटद्वार पुलिस नाकाम
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जिला कांग्रेस कमेटी कोटद्वार के कार्यकर्ताओं ने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि कोटद्वार में दिन प्रतिदिन खराब हो रही कानून व्यवस्था गहरी चिंता का विषय है। आये दिन युवक नाबालिग लड़कियों को भगाकर ले जा रहे है और पुलिस आरोपियों को नहीं पकड़ पा रही है। जिससे जनता का पुलिस से भरोसा उठ रहा है। कार्यकर्ताओं ने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा देने वाली भाजपा सरकार में बेटियां सुरक्षित नहीं है। कार्यकताओं ने उप जिलाधिकारी योगेश मेहरा के माध्यम से प्रदेश के राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर कोटद्वार पुलिस को अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए निर्देशित करने की मांग की है।
कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष डॉ. चन्द्रमोहन खरक्वाल ने कहा कि पिछले कई दिनों से कोटद्वार विधानसभा क्षेत्रान्तर्गत नाबालिग लड़कियों को बहला फुसलाकर भगा ले जाने के मामले प्रकाश में आये है। पुलिस प्रशासन कानून व्यवस्था बनाने में नाकाम साबित हुआ है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा दे रही है, लेकिन वर्तमान समय में बेटियां सुरक्षित नहीं है। जिस कारण लोगों में भय व्याप्त है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं से सामाजिक सदभाव पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है, जो स्वस्थ सामाजिक परिस्थितियों के लिए अनुकूल नहीं है। कोटद्वार थाना क्षेत्रान्तर्गत चोरी की वारदातों के अलावा अन्य अपराधों में इजाफा हो रहा है। अपराधियों पर अंकुश लगाने में पुलिस नाकाम साबित हो रही है। आज कई परिवार अपने बच्चों को घर से बाहर भेजने में कतरा रहे है। अगर जल्द ही आपराधिक घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाया गया तो भविष्य में भयावह परिणाम हो सकते है। ज्ञापन भेजने वालों में जिलाध्यक्ष डॉ. चन्द्रमोहन खरक्वाल, महानगर अध्यक्ष संजय मित्तल, यूथ कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष विजय रावत, बलवीर सिंह रावत, नत्थू सिंह अधिकारी, जितेन्द्र भाटिया, विनोद नेगी आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!