शहर में आज चलेगा बुल्डोजर, तैयारी पूरी

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

अभियान से पूर्व निगम अधिकारियों ने व्यापारियों से की स्वयं ही अतिक्रमण हटाने की अपील
जयन्त प्रतिनिधि।
उच्च न्यायालय के आदेश पर नगर निगम की ओर से गुरुवार को शहर में अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जाएगा। सुबह आठ बजे शुरू होने वाले अतिक्रमण हटाओ अभियान के लिए नगर निगम ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। वहीं, अभियान से पूर्व नगर निगम के अधिकारियों ने व्यापारियों से अपना अतिक्रमण स्वयं ही हटाने की अपील की। कहा कि जेसीबी से भवनों को अधिक नुकसान हो सकता है।
बताते चले कि बीती 18 नवंबर 2020 को उच्च न्यायालय ने राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ ही नगर निगम की नजूल भूमि से अतिक्रमण हटाने का आदेश जारी किया था। न्यायालय के आदेश पर निगम ने नजीबाबाद चौक से मालवीय उद्यान तक 137 अतिक्रमण चिन्हित कर दिसंबर 2022 में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की। कार्रवाई के विरोध में कुछ भवन स्वामी उच्चतम न्यायालय पहुंचे। व्यापारियों का कहना था कि उच्च न्यायालय ने भवन स्वामियों का पक्ष सुने बिना ही अपना निर्णय दे दिया है। उच्चतम न्यायालय ने उच्च न्यायालय को दूसरा पक्ष सुनने के निर्देश दिए व उच्च न्यायालय ने नगर निगम को भवन स्वामियों का पक्ष सुनने को कहा। न्यायालय के निर्देश पर नगर निगम ने 79 भवन स्वामियों को सुना। जिसमें से 43 भवन स्वामी अतिक्रमण की जद में आए। जिन्हें निगम ने नोटिस जारी कर दिए। कुछ व्यापारी पुन: उच्च न्यायालय पहुंचे लेकिन, न्यायालय ने उनकी याचिका खारिज कर दी। याचिका खारिज होने के बाद नगर निगम ने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर अतिक्रमण हटाने के लिए मजिस्ट्रेट की तैनाती का आग्रह किया। जिसके बाद जिलाधिकारी डॉ.विजय कुमार जोगदंडे ने कोटद्वार व लैंसडौन के उपजिलाधिकारी को बतौर मजिस्ट्रेट तैनात कर दिया। नगर आयुक्त किशन सिंह नेगी ने बताया कि अतिक्रमण हटाने के लिए तैयारियां पूरी कर दी गई हैं। व्यापारियों से स्वयं ही अपना अतिक्रमण हटाने की भी अपील की गई है। बताया कि व्यवस्थाओं को बनाने के लिए पुलिस फोर्स भी अभियान में शामिल रहेगा। नगर निगम ने स्वयं भी अपने बदरीनाथ मार्ग स्थित भवन से अतिक्रमण को हटा दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!