कोरोना संक्रमितों के साथ ही मरीजों की मौत के मामले भी थमने लगे

Spread the love

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों के साथ ही मरीजों की मौत के मामले भी थमने लगे हैं। बीते 24 घंटे के भीतर दो कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। वहीं, 116 नए संक्रमित मिले हैं। साथ ही मंगलवार को संक्रमितों की तुलना में दोगुने मरीज ठीक हुए हैं। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 95 हजार पार पहुंच गया है। वहीं, सक्रिय मरीजों की संख्या भी दो हजार से कम रह गई है।
स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को 10397 सैंपल निगेटिव पाए गए। देहरादून जिले में 55, नैनीताल में 28, अल्मोड़ा में 11, उत्तरकाशी में आठ, हरिद्वार में सात, पिथौरागढ़ में चार, ऊधमसिंह नगर, रुद्रप्रयाग व बागेश्वर जिले में एक-एक संक्रमित मिला है।बीते 24 घंटे में दो संक्रमित मरीजों की मौत हुई है जिसमें से सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में एक, महंत इन्दिरेश हॉस्पिटल में एक मरीज ने इलाज के दौरान दम तोड़ा है। प्रदेश में 1619 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, मंगलवार को 251 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इन्हें मिला कर 90133 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 95039 हो गई है। संक्रमितों की तुलना में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या ज्यादा है। जिससे रिकवरी दर 94.84 प्रतिशत हो गई है।
तीसरे दिन भी जारी रहा टीकाकरण अभियान
उत्तराखंड में तीसरे दिन यानी मंगलवार को भी कोरोना वैक्सीनेशन अभियान जारी रहा । इस दौरान सैकड़ों कर्मचारियों ने वैक्सीन लगवाई। वहीं, सोमवार को 34 बूथों पर 3037 हेल्थ वर्करों में से 1961 को वैक्सीन लगाई गई। 64.57 प्रतिशत हेल्थ वर्करों को वैक्सीन की खुराक दी गई। पहले दिन की तुलना में वैक्सीन लगवाने वाले हेल्थ वर्करों की संख्या कम रही।केंद्र सरकार की ओर से सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 1.13 लाख कोविशील्ड वैक्सीन मिली हैं। पहले चरण में 50 हजार हेल्थ वर्करों को वैक्सीन की दो-दो खुराक दी जाएगी। हालांकि, प्रदेश में 87588 हेल्थ वर्करों को वैक्सीन लगाई जानी है।सचिव स्वास्थ्य अमित सिंह नेगी का कहना है कि टीकाकरण अभियान सुचारु रूप से चल रहा है। प्रदेश में अभी तक किसी भी बूथ से वैक्सीन लगाने से गंभीर प्रभाव की शिकायत नहीं मिली है। वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। इसमें घबराने की जरूरत नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!