क्रिकेट में हाथ आजमा रही हैं दिव्यांग खिलाड़ी मोहनी

Spread the love

बागेश्वर। पैरा ओलंपिक के तहत आयोजित गोला, चक्का फेंक के अलावा वॉलीबाल में सिक्का जमाने के बाद जिले की होनहार खिलाड़ी ने अब क्रिकेट में भी हाथ आजमाना शुरू कर दिया है। नोएडा में आयोजित क्रिकेट प्रतियोगिता ने प्रदेश की टीम से प्रतिभाग किया। प्रदेश की टीम महाराष्ट्र से फाइनल मुकाबला हार गई। अब टीम राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए चेन्नई में ट्रायल देगी। जिले की दिव्यांग खिलाड़ी मोहनी कोरंगा ने गोला, चक्का फेंक में राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय पर प्रतिभाग किया है। इसके अलावा वॉलीबाल में वह कई पुरसकार जीत चुकी है। इस बार पहली दफा उन्होंने क्रिकेट में हाथ आजमाया है। मोहिनी ने बताया कि पैरा ओलंपिक के तत्वावधान में 11 मार्च नोएडा में राष्ट्रीय स्तरी दिव्यांग खिलाड़ियों की क्रिकेट प्रतियोगिता हुई। इसमें उन्होंने प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया। उनकी टीम फाइनल तक पहुंची, लेकिन फाइनल मुकाबले में महाराष्ट्र से हार गई। अब टीम का 24 मार्च को चेन्नई में ट्रायल है। इसके अलावा 28 मार्च को हरियाणा में वॉलीबॉल प्रतियोगिता है। वह वॉलीबॉल खेलने जाएगी। मोहिनी ने कहा कि वह किसी भी खेल में प्रतिभाग करेगी। अपने हाथ एक भी मौका नहीं गवाएगी। उसने कहा कि प्रदेश सरकार ने दिव्यांग खिलाड़ियों के आने-जाने की व्यव्स्था तक नहीं की। अपने पल्ले का पैसा खर्च कर प्रतियोगिता में जाना पड़ता है। जिले में भी कोचिंग की कोई व्यवस्था नहीं है। अपने कमरे की दीवार पर बॉल मारकर अपनी प्रेक्टिस करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!