उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रतिनिधिमंडल ने की भाजपा प्रदेशाध्यक्ष से मुलाकात

Spread the love

देहरादून। उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रतिनिधिमंडल जिसका नेतृत्व प्रदेश महामंत्री श्री हरीश नारंग जी द्वारा किया गया,आज दोपहर 1.30 बजे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक जी भाजपा प्रदेश मुख्यालय बलबीर रोड0 देहरादून में मिला और उत्तराखण्ड में भाजपा सरकार और संगठन में पंजाबी समाज की अनदेखी और उपेक्षा को लेकर विस्तृत चर्चा करी।प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश महामंत्री श्री हरीश नारंग,प्रदेश उपाध्यक्ष श्री गोपाल पुरी,प्रदेश मंत्री श्री राकेश मल्होत्रा एवम श्री सुनील बांगा, महानगर अध्यक्ष स पी एस कोचर ,महामंत्री गोविंद मोहन, शेखर कपूर आदि उपस्थित रहे।महानगर महामंत्री श्री गोविंद मोहन ने कहा कि 1947 में विभाजन के बाद उत्तराखंड में आकर बसे पंजाबी समुदाय ने भरसक मेहनत और लगन के दम पर खेती और उद्योग तथा व्यापार को उत्तराखंड की रीढ़ की हड्डी बनाने में कोई कसर नही छोड़ी । पंजाबी समाज विभाजन का दर्द झेलने के कारण हमेशा क्रस्स् और जनसंघ जो अब भारतीय जनता पार्टी का रूप ले चुकी है उसके प्रति हमेशा निष्ठावान और समर्पित रहा है। और हमेशा पार्टी को जब जब जरूरत पड़ी तब तब तन मन धन से समर्पित करने में पीछे नही हटा है ।स पी एस कोचर ने कहा कि 1984 के दंगों के बाद से सिख समुदाय भाजपा के साथ जुड़ा है और देश का भविष्य भाजपा के हाथों में ही सुरक्षित मानता है, उत्तराखण्ड में पंजाबी समाज हमेशा से भाजपा समर्थित रहा है और उसके उत्थान में अग्रणी भूमिका निभाता आया है।किंतु विगत कुछ वर्षों से पंजाबी समाज को भाजपा संगठन एवम सरकार में उपेक्षित किया जाना समाज के लिए चिंता का विषय है।प्रदेश उपाध्यक्ष श्री गोपाल पुरी जी ने कहा कि लगभग 23त्न से 25त्न जनसख्या वाले समाज को सरकार और संगठन की उपेक्षा का शिकार होना पड़ रहा है ,जबकि पंजाबी समाज हमेशा से भाजपा का परंपरागत वोटबैंक रहा है और हर तरह से तन मन धन से हमेशा सहयोग करता आया है। किंतु जिस प्रकार से सरकार और संगठन में पंजाबियों की उपेक्षा की जा रही है, वह चिंताजनक है जिसका ज्वलन्त उदाहरण मा. मुख्यमंत्री जी के मीडिया सलाहकार के रूप में श्री दिनेश मानसेरा की नियुक्ति और अगले दिन ही नियुक्ति रद्द करना है जिससे पंजाबी समाज अत्यंत अपमानित और आक्रोशित महसूस कर रहा है। ऐसा न हो समाज के इस आक्रोश का सामना आगामी विधानसभा चुनावों में भुगतना पड़े।प्रदेश मंत्री श्री राकेश मल्होत्रा और सुनील बांगा जी ने व्यापारियों के उत्पीड़न का मुद्दा उठाया और कहा कि हर बार अतिक्रमण के नाम पर पंजाबी बहुल क्षेत्रों में ही प्रशासन का डंडा चलता है। समाज को जातिवाद और पक्षपात के आधार पर बांटना कहाँ तक उचित है । नियम कायदों के अनुरूप सभी के लिए समान कानून के तहत कार्यवाही की जानी चाहिए।सारी वार्ता उपरांत माननीय प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक ने कहा कि निश्चित रूप से पंजाबी समाज हमेशा से त्याग, सेवा, समर्पण और सहयोग का प्रतीक है और भाजपा का परंपरागत वोट बैंक है ।आपके द्वारा प्रस्तुत विषयों पर मैं संगठन और सरकार के वरिष्ठ पदाधिकारियों से बातचीत कर शीघ्र ही पंजाबी समाज की भावनाओं के अनुरूप कार्यवाही करने का प्रयास करूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!