सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए गंभीरता से करें काम: डीएम

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जिलाधिकारी डॉ.विजय कुमार जोगदंडे ने ली अधिकारियों की बैठक
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी : लगातार बढ़ रही सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए जिलाधिकारी ने विभिन्न विभागीय अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। कहा कि इसके लिए आमजन को जागरूक किया जाना जरूरी है। उन्होंने अधिकारियों को दुर्घटनाग्रस्त क्षेत्रों को चिन्हित कर सुधार करने के निर्देश दिए।
बुधवार को जिलाधिकारी डॉ.विजय कुमार जोगदंडे की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजन की गई। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि प्रत्येक माह तिथि निर्धारित कर सड़क सुरक्षा समिति की बैठक करें। उन्होंने कहा कि पूर्व में गठित की गयी समिति में एक गैर सरकारी सदस्य को भी नियुक्त करें। साथ ही जो सड़क मार्ग दुर्घटनाओं की दृष्टि से संवेदनशील हैं वहां आवश्यकतानुसार सुधारात्मक कार्यवाही करें। कहा कि मार्गों पर साइनेज बोर्ड, कैश बेरियर सहित उपयुक्तानुसार साइनेज लगांए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग व राजमार्ग प्राधिकरण को निर्देशित किया कि 30 जून, 2022 तक समस्त सड़कों की नालियों की साफ-सफाई करें। जिससे मानसून सीजन के दौरान पानी की निकासी सही रूप से हो सकेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि जहां हाल ही में दुर्घटना हुई है समिति उन स्थानों का निरीक्षण कर दुर्घटनाओं कारण की पहचान करना सुनिश्चित करें। कहा कि दुर्घटना स्थलों में सुधारीकरण के जो जरूरी कार्य है प्राथमिकता से कार्य पूर्ण करें। उन्होंने पुलिस व परिवहन विभाग को निर्देशित किया कि नशा करके वाहन चलाने, तीव्र गति, बिना हेलमेट, सीटबेल्ट, ओवरलोडिंग, बिना लाइसेंस, फिटनेस व अन्य रोकथाम हेतु नियमित रूप से प्रर्वतन कार्यवाही करें। इस दौरान उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि जनपद के ट्रामा सेंटर कोटद्वार व श्रीनगर में चिकित्सक स्टॉफ की बराबर तैनाती रखने तथा चिकित्सा उपकरणों की किसी भी तरह की कमी न होने दें। इस वर्ष 16 दुर्घटनाओं में 23 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि 02 लंबित जांचों की कार्यवाही पूर्ण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि देवराजखाल मार्ग, खिर्सू, यमकेश्वर तथा पौड़ी-पैठाणी मार्गो पर आवश्यकतानुसार कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। इसके अलावा उन्होंने कहा कि कावंड यात्रा को देखते हुए यात्रा रूट तथा नीलकंठ में दुकानों, ढाबों के आगे किसी भी तरह से वाहन खड़े न होने दें। कहा कि आवागमन मार्ग को कावंड यात्रा में व्यवस्थित रखने हेतु नियमानुसार चैंकिंग व चालन की कार्यवाही करें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी ईला गिरी, आरटीओ अनिता चंद, अधिशासी अभियंता डीसी नौटियाल, प्रधान सहायक गजपाल सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!