1 जुलाई से खुलेगा जागेश्वर धाम

Spread the love

अल्मोड़ा। जागेश्वर धाम को श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिये खोलने के लिये तैयारी तेज हो गई है। एक जुलाई से सिर्फ अल्मोड़ा जिले के लोग मंदिर में दर्शन के लिए आ सकते हैं। सुबह 8 से शाम पांच बजे मंदिर खोला जायेगा। एक दिन में 100 लोग ही जागेश्वर में दर्शन के लिये आ सकेंगे। जागेश्वर में आने वाले सभी श्रद्धालुओं को पास भी बनाना अनिवार्य होगा। रास्ते में दो जगहों पर बैरियर बनाकर गहनता से चेकिंग भी की जाएगी।अल्मोड़ा कलक्ट्रेट में गुरुवार को डीएम नितिन सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में जागेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों की बैठक आयोजित की। इसमें जागेश्वर मंदिर को श्रद्वालुओं के दर्शनों के लिये खोलने पर विचार विमर्श किया गया। सभी सदस्यों व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की सहमति पर जागेश्वर धाम को 1 जुलाई से अल्मोड़ा जनपद के श्रद्वालुओं के दर्शन मात्र के लिए खोला जायेगा। इस दौरान अन्य धार्मिक क्रिया-कलाप (यज्ञोपवीत, कर्मकांड) बंद रहेंगे। मंदिर में पूजा पाठ पूर्व की तरह ऑनलाइन किये जायेंगे। सुबह 8 से शाम 5 बजे तक श्रद्वालुओं के दर्शनों के लिये खुला रहेगा। दर्शन व मंदिर में प्रवेश के लिये ऑनलाइन व ऑफलाइन पास जारी किये जायेंगे। बिना पास के मंदिर में प्रवेश नहीं करने दिया जायेगा।
सामाजिक दूरी का करना होगा पालन
डीएम ने मंदिर परिसर को समय-समय पर सेनेटाइज व स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार मास्क व सामाजिक दूरी का पालन कराने के निर्देश दिये। मंदिर में आने वाले श्रद्वालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग व बिना कोविड लक्षण वाले व्यक्तियों को ही प्रवेश दिया जायेगा। इस दौरान आरतोला व भगरतोला मार्ग पर इंट्री पाइंट बनाये जायेंगे। दोनों जगहों पर श्रद्वालुओं की पूर्ण जानकारी व पास चेक किये जाएंगे।
चरणबद्ध तरीके से खुलेगा धाम
डीएम ने कहा कि मंदिर को चरणबद्ध तरीके से अन्य श्रद्वालुओं के लिए भी खोला जायेगा। जिससे कोविड संक्रमण से बचा जा सके। यहां एसडीएम मोनिका, प्रबंधक जागेश्वर मंदिर समिति भगवान भट्ट, सूचना विज्ञान अधिकारी अमित लाम्बा, उपाध्यक्ष गोविंद गोपाल, जेष्ठ ब्लॉक प्रमुख धौलादेवी योगेश भट्ट, सदस्य क्षेत्र पंचायत महेश राम, प्रधान प्रतिनिधि नारद भट्ट, श्रीराम प्रसाद, कमल बिष्ट, पुरातत्व अधिकारी चंद्र सिंह चौहान आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!