हरेला पर्व पर तहसील, कोतवाली, सीओ कार्यालय परिसर में किया वृक्षारोपण

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। गुरूवार को हरेला पर्व के अवसर पर तहसील, कोतवाली, सीओ कार्यालय परिसर समेत अन्य स्थानों पर औषधीय, छायादार, फलदार प्रजाति के पौधों का
रोपण कर उनके संरक्षण का संकल्प लिया। एसडीएम ने कहा कि हरेला पर्व का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण और जल संरक्षण से है। इसके लिए हम सबको इस अभियान
में मिलकर काम करने की जरूरत है।
तहसील परिसर में उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा के नेतृत्व में प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी, नायाब तहसीलदार आरपी पंत, बार संघ के अध्यक्ष किशन
सिंह पंवार सहित तहसील के कर्मचारियों व अधिवक्ताओं ने आम, लीची, अनार, जामुन सहित अन्य प्रजातियों के पौधों का रोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश
दिया। एसडीएम योगेश मेहरा ने लोगों को अधिक से अधिक संख्या में पौधरोपण करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि मात्र पौधरोपण तक सीमित न होकर
संरक्षित और जीवंतता देना भी प्रत्येक मानव की भावना होनी चाहिए। आज के दौर में पर्यावरण को बढ़ते प्रदूषण के खतरे से जहां भारी जल संकट का खतरा पैदा
हो रहा है, वहीं जंगल भी समाप्त हो रहे हैं। ऐसे में इसका बड़ा खामियाजा जीव-जंतुओं को भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पौधरोपण करने से पर्यावरण को
फायदा तो होगा ही, साथ ही जल संकट से भी निजात मिलेगी।
वहीं कोतवाली और सीओ कार्यालय परिसर में अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय, पुलिस उपाधीक्षक अनिल जोशी, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी,
महिला उपनिरीक्षक भावना भट्ट, हेड कांस्टेबल योगेन्द्र कुमार, गजपाल सिंह, देवी लाल, कांस्टेबल राजकुमार, महेन्द्र बंगारी, अवनीश ने रूद्राश, आंवला, दाल चीनी,
अशोक, अनार, सिल्वर ओक, बोगेन बोलिया आदि प्रजाति के पौधे रोपकर उनके संरक्षण का संकल्प लिया। कोतवाल मनोज रतूड़ी ने बताया कि गुरूवार को
उत्तराखण्ड में हरेला का पर्व मनाया जा रहा है। इसी उपलक्ष में कोतवाली और सीओ कार्यालय परिसर में पौधे रोपे गये। हरेला पर्व हरियाली का प्रतीक है। (फोटो
संलग्न है)
कैप्शन01: तहसील परिसर में पौधा रोपते हुए एसडीएम योगेश मेहरा, बार संघ के अध्यक्ष किशन सिंह पंवार।
कैप्शन02: सीओ कार्यालय में पौध रोपते हुए एएसपी प्रदीप राय, सीओ अनिल जोशी।

बॉक्स समाचार
बिना पेड़ के मानव जीवन की कल्पना व्यर्थ
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। राजकीय महाविद्यालय पोखड़ा में हरेला पर्व के उपलक्ष में विभिन्न प्रजाति के पौधों का रोपण किया गया। इस दौरान प्राध्यापकों व कर्मचारियों ने पौधों की
सुरक्षा करने और हरियाली लाने का संकल्प लिया। साथ ही महाविद्यालय परिवार को पौधों की सुरक्षा करने के लिए प्रेरित किया।
महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्या ने कहा कि प्रकृति का सर्वश्रेष्ठ उपहार वन है। पेड़ों की हरियाली के बिना मानव जीवन की कल्पना करना व्यर्थ है। वन पृथ्वी
की अमूल्य धरोहर हैं। उन्होंने कहा कि वृक्ष मानव का सबसे बड़ा मित्र है। वृक्ष स्वंय धूप में रहकर हमें छाया देते है। पर्यावरण संरक्षण से ही धरती पर जीवन का
संरक्षण हो सकता है। वृक्ष लगाकर ही प्रकृति को संतुलित रखा जा सकता है। पेड़ आक्सीजन का सबसे बड़ा स्त्रोत है। इतना ही नहीं जलवायु को शांत रखने के
साथ-साथ भोजन उपलब्ध कराते है। इस अवसर पर महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापक अटल बिहारी त्रिपाठी, अजय कुमार, मोनिका रावत, कुसुम देवी, हेमलता देवी,
राहुल कुमार आदि उपस्थित रहे। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन03: राजकीय महाविद्यालय पोखड़ा में पौधा रापते हुए प्राध्यापक।

बॉक्स समाचार
वृक्षारोपण से सुरक्षित होगा वातावरण
भारतीय स्टेट बैंक के सौजन्य से मुक्तिधाम समाज सेवा समिति कोटद्वार के तत्वाधान में हरेला पर्व पर औषधीय, फलदार एवं छायादार पौधों का रोपण किया गया।
इस अवसर पर बैंक के महाप्रबंधक राकेश मोहन भट्ट ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि आज के निरन्तर प्रदूषित हो रहे वातावरण को वृक्षारोपण के महान
पुनीत कार्य से ही सुरक्षित किया जा सकता है। वृक्षारोपण कार्य में समिति के अध्यक्ष दीनानाथ भाटिया, सचिव विनोद चन्द्र कुकरेती, एमएस रावत, राम नरेश,
संदीप, श्रीमती अनीता शर्मा, त्रिलोक रावत, लाजपत भाटिया, श्रीकृष्ण सिंघानिया, पंकज भाटिया, एमएम उपाध्याय आदि ने सहयोग किया। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन04: मुक्तिधाम में आम का पौधा रोपते हुए एसबीआई के महाप्रबन्धक राकेश मोहन भट्ट।

बॉक्स समाचार
पौधारोपण कर सुरक्षा का लिया संकल्प
देवभूमि उत्तराखण्ड के राज्य पर्व हरेला के शुभ अवसर पर स्व. शशिधर भट्ट स्मृति खेल संस्था द्वारा शशिधर भट्ट राजकीय स्पोर्टस स्टेडियम कोटद्वार में वृक्षारोपण
किया गया। संस्था के संरक्षक नागेन्द्र उनियाल के नेतृत्व में सचिव सुनील रावत, वरिष्ठ उपाध्यक्ष मनीष भट्ट, संयुक्त सचिव गोपाल जसोला, कोषाध्यक्ष राकेश
मोहन भट्ट, सिद्धार्थ रावत, ऋतिक नेगी, अमित बडोला, हरीश वर्मा, कोटद्वार फुटबाल एसोसिएशन के अध्यक्ष दर्शन भंडारी, हीरा सिंह भंडारी उपक्रीडाधिकारी संदीप
डुकलान, हॉकी कोच महेश्वर, क्रिकेट कोच सुधीर नेगी, स्टेडियम कर्मी आशीष भट्ट, सूरज सिंह, पवन कुमार आदि ने छायादार, औषधीय प्रजाति के पौधों का रोपण
कर उनकी सुरक्षा का संकल्प लिया। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन05: शशिधर भट्ट राजकीय स्पोर्टस स्टेडियम कोटद्वार में पौधा रोपते हुए

बॉक्स समाचार
पर्यावरण सुरक्षा की ली शपथ
हरेला पर्व के शुभ अवसर पर लैंसडौन वन प्रभाग की कोटड़ी रेंज के द्वारा आरक्षित वन दक्षिण कोटरी कक्ष संख्या-11 में विभिन्न प्रजाति के पौधों का रोपण कर
पर्यावरण सुरक्षा का शपथ ली। रेंजर आरपी पंत ने बताया कि यह अभियान एक माह तक लगातार चलाया जायेगा। इस मौके पर पार्षद धीरज सिंह नेगी, दीपक
रावत, अशोक बिष्ट, अखिलेश, छोटे लाल, सतपाल, विजय कुमार, पान सिंह, जयपाल भंडारी, बौबेन्द्र नेगी, यशोदा देवी, नन्दन सिंह, हरेन्द्र सिंह, कमल सिंह, संदीप,
शराफत अली, हरिलाल, मंगल सिंह आदि उपस्थित रहे। वहीं राजकीय इंटर कॉलेज कलालघाटी में कार्यक्रम अधिकारी रमाकान्त कुकरेती, सहायक कार्यक्रम अधिकारी
मंजू नेगी के नेतृत्व में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के स्वयं सेवियों ने आम, अमरूद, नीम, जामुन सहित औषधीय प्रजाति के पौधों का रोपण किया गया। इस अवसर
पर हंस फाउंडेशन के प्रदेश प्रभारी पदमेन्द्र बिष्ट, आशीषम फाउंडेशन के अध्यक्ष भाष्कर बौठियाल, श्रीमती गीता बुड़ाकोटी, निधि बुड़ाकोटी, शिक्षक कुलदीप नेगी,
रघुवीर सिंह गुसांई, महेन्द्र सिंह आदि उपस्थित रहे। आशीषम फाउंडेशन के द्वारा स्वयं सेवियों एवं उपस्थित शिक्षकों को सैनिटाइजर वितरित किये गये।
बॉक्स समाचार
पर्यावरण मित्र बनने का संदेश दिया
श्री हंस महाराज राजकीय इंटर कॉलेज पोखड़ा में एनएसएस और स्काउट गाइड के द्वारा हरेला पर्व के अवसर पर फलदार और शोभादार प्रजाति के पौधे रोपकर
पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लिया गया। हरेला पर्व का शुभारंभ प्रधानाचार्य भगवती प्रसाद डबराल, कार्यक्रम अधिकारी पूनम रावत, गाइड कैप्टेन मीनाक्षी ध्यानी ने
अनार, अमरूद और आंवला के पौधे रोपकर किया। कार्यक्रम अधिकारी पूनम रावत ने हरेला गीत सुनाकर प्रकृति के अुनरूप जीवन शैली को अपनाकर पर्यावरण मित्र
बनने का संदेश दिया। प्रधानाचार्य भगवती प्रसाद डबराल के मार्गदर्शन में विद्यालय के शिक्षक सर्वेन्द्र सिंह नेगी, मनोज ममगांई, रणजीत सिंह, ममता चतुर्वेदी,
नीलम चौधरी सहित छात्रा आंचल, दीपाजंलि, सिमरन, अनूप कुमार, आयुष रावत, आकांक्षा, दिवांश ने विद्यालय परिसर में शोभादार प्रजाति के बाटल ब्रश, लौकाट,
देवदार, कचनार और फलदार प्रजाति के अनार, अमरूद, आंवला के 32 पौधे रोपे। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन06: श्री हंस महाराज राइंकॉ पोखड़ा में पौधा रोपते हुए शिक्षक व स्काउट गाइड के छात्र।

बॉक्स समाचार
पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण जरूरी
हरेला पर्व पर नगर निगम की महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने पार्षदों के साथ मालवीय उद्यान में विभिन्न प्रजाति के छायादार पौधों का रोपण कर पर्यावरण सरंक्षण
का संदेश दिया। मालवीय उद्यान में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने कहा कि वर्तमान में बड़ी मात्रा में जंगलों
से पेड़ों के अवैध कटान होने से पर्यावरण में असंतुलन पैदा हो गया है, जिससे पर्यावरण को खतरा पैदा हो गया है, ऐसी स्थिति में सभी लोगों को पर्यावरण सरंक्षण
के लिए वृक्षारोपण किये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने लोगों को अपने बाग, बगीचे, खाली जगह में वृक्षारोपण करने के लिए भी प्रेरित किया। इस मौके पर पार्षद
अनिल रावत, कुलदीप रावत, अनिल नेगी, सोनिया नेगी, पिंकी रावत, अनीता मल्होत्रा, कविता मित्तल, बीना नेगी सहित नगर निगम के अवर अभियन्ता अखिलेश
खण्डूडी, सफाई निरीक्षक सुनील कुमार, स्वास्थ्य लिपिक रोशन नेगी आदि मौजूद थे। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन07: मालवीय उद्यान में पौधा रोपते हुए मेयर श्रीमती हेमलता नेगी।

बॉक्स समाचार
राप्रावि गुठेरता में क्वारंटीन लोगों ने रोपे पौधे
विकासखंड रिखणीखाल क्षेत्र के अंतर्गत राजकीय प्राथमिक विद्यालय गुठेरता में क्वारंटाइन लोगों ने स्कूल परिसर में स्वच्छता अभियान चलाकर जामुन, अनार, आम
व विभिन्न प्रजाति के फूलों के पौधे रोपे। सहायक नोडल अधिकारी कविता बिष्ट के सहयोग व स्थानीय ग्राम प्रधान के नेतृत्व में पौध रोपण किया गया। इस मौके
पर सोशल डिस्टेंस रखते हुए महेन्द्र सिंह, धर्मेंद्र सिंह व सौरव आदि ने पौधा रोपण किया। वहीं महादेव सरस्वती शिशु विद्या मंदिर जशोधरपुर कलालघाटी में हरेला
पर्व पर छायादार प्रजाति के पौधों सहित विभिन्न प्रजाति के फूलों के पौधों का रोपण किया गया। विद्यालय के प्रधानाचार्य निर्मल केमनी ने बताया कि कोरोना
संक्रमण के कारण विद्यालय के सभी छात्रों को अपने घर पर ही फलदार/छायादार पौधों का रोपण व संरक्षण करने को कहा गया। इस अवसर पर प्रमोद शर्मा,
जसपाल नेगी, रविन्द्र रावत, भूपेन्द्र रावत, अशोक कुमार आदि उपस्थित रहे।
बॉक्स समाचार
स्वयं सेवियों ने आंगन में रोपे पौधे
राजकीय बालिका इंटर कॉलेज कलालघाटी की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की स्वयं सेवियों ने अपने घरों में रहते हुए हरेला पर्व धूमधाम से मनाया गया। स्वयं
सेवियों ने आंवला, एलोवेरा, गिलोय, अमरूद, जामुन आदि फलदार प्रजाति के पौधे रोपे। कार्यक्रम अधिकारी डॉ. मंजू कपरवाण, प्रधानाचार्य श्रीमती पुष्पा धस्माना
सहित सभी शिक्षिकाओं ने अपने घरों पर पौधा रोपकर पर्यावरण संरक्षण हेतु किया। स्वयं सेवी प्रियांशी, शोभी अंसारी, अंजलि, मानसी भट्ट, नीदा परवीन, गरिमा,
ज्योति, निहारिका, स्वाति नेगी, राधिका आदि ने पर्यावरण संरक्षण के प्रतीक हरेला पर्व पर वृक्षारोपण किया। डॉ. मंजू कपरवाण ने कहा कि उत्तराखण्ड का प्रसिद्ध
हरेला पर्व पर्यावरण संरक्षण, जागरूकता के लिए एक एक पर्व है। जिसकी आज बढ़ते हुए प्रदूषण, पर्यावरण को शुद्ध करने के लिए वृक्ष लगाकर जीवन बचाने की
आवश्यकता और बढ़ गई है। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन08: राबाइंकॉ कलालघाटी की स्वयं सेवी छात्रा घर में पौधा रोपते हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!