जाखनी के जंगलों में लगी आग, महिलाओं ने बुझाई

Spread the love

बागेश्वर। जिले में इस वक्त हर रेंज के जंगलों में आग लगी है। इस कारण पूरे वातावरण में धुंध छाई हुई है। सूरज की किरणें जमीन पर पूरी तरह नहीं पड़ने से सुबह के समय खासी ठंड हो रही है। इधर, जंगल को बचाने के लिए भगवती देवी को चढ़ाया गया जाखनी के जंगल भी धधक गए। महिलाओं ने मौके पर जाकर आग पर काबू पाया। ग्रामीणों का कहना है कि साजिश के तहत जंगल में आग लगाई है। ऐसे लोगों का जल्द पता लगाया जाएगा।
मालूम हो कि जाखनी के ग्रामीणों ने गत दिनों अपने पूर्वजों द्वारा संरक्षित जंगल को बचाने के लिए चिपको आंदोलन किया। इसके बाद लोनिवि ने रंगथरा-मजगांव-चौनाला मोटर मार्ग का निर्माण मजगांव से आगे रोक दिया। इससे जाखनी के ग्रामीणों ने राहत की सांस ली। सड़क निर्माण नहीं होने से उनके जंगल कटने बच गए। उन्हें गर्मी में पानी की समस्या से भी दो चार नहीं होना पड़ेगा, लेकिन शुक्रवार की देर शाम उनके संरक्षित जंगल में आग लग गई। आंदोलन से जुड़ी सभी महिलाएं मौके पर पहुंची और आग पर काबू पा लिया। ग्रामीणों का कहना है कि वह अपने जंगल बचाने के लिए दिन-रात काम करेंगी। उन्होंने जंगल को साजिश के तहत आग लगाने का आरोप भी लगाया है। पुलिस तथा वन विभाग से ऐसे लोगों के बारे में जानकारी जुटाने की मांग की है। पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य जोगा सिंह मेहता ने जिला प्रशासन से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है। इसके अलावा भी जिले के जंगल आग के हवाले हैं। इधर प्रभागीय वनाधिकारी बीएस शाही ने बताया कि आग बुझाने के लिए फायर वॉचर लगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!