कोटद्वार में दस ग्राम स्मैक के साथ दो तस्कर गिरफ्तार, इन्हें किया गिरफ्तार, कोटद्वार में बढ़ता जा रहा स्मैक का कारोबार   

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। क्षेत्र में नशे के खिलाफ कोतवाली पुलिस ने मुहिम चलाते हुए दो तस्करों को 10 ग्राम से अधिक स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ कोतवाली कोटद्वार में एनडीपीसी एक्ट के तहत अभियोग पंजीकृत करते हुए दोनों तस्करों को जेल भेज दिया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी के निर्देश पर कोटद्वार पुलिस नशे के खिलाफ अभियान चला रही है।
कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी के नेतृत्व में कोटद्वार क्षेत्र में बढ़ते नशे पर रोक लगाने हेतु एक टीम का गठन किया गया। सोमवार देर सांय पुलिस टीम ने बुधवार को बुद्धापार्क के पास वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान दो व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगे। पुलिस टीम ने संदेह होने पर उन्हें रूकने को कहा, लेकिन वह रूके नहीं, पुलिस कर्मियों ने उनका पीछा कर हर्बल पार्क पनियाली के पास सड़क पर उन्हें पकड़ लिया। पुलिस कर्मियों ने जब दोनों से सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह स्मैक लेकर जा रहे थे। इसलिए पुलिस से बचकर भाग रहे थे। पुलिस टीम ने इस संबंध में सूचना पुलिस उपाधीक्षक कोटद्वार को दी। सूचना पर सीओ कोटद्वार अनिल जोशी मौके पर पहुंचे। उन्होंने दोनों व्यक्तियों की तलाशी ली तो उनके पास से 10 ग्राम से अधिक स्मैक बरामद हुई। जिस पर पुलिस टीम दोनों को गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई। जहां पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि  वह स्मैक को बरेली के गंगापुर चौक चाची की बहू राखी से लेकर आते है और कोटद्वार क्षेत्र में स्मैक को फुटकर में छात्रों व युवकों को बेचकर मुनाफा कमाते है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी ने बताया कि दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय के निर्देश पर दोनों को जेल भेज दिया है। पुलिस टीम में सीओ अनिल जोशी, एसएचओ मनोज रतूड़ी, उपनिरीक्षक सुनील पंवार, सीआइयू प्रभारी रफत अली, हेड कांस्टेबल सुशील कुमार, कांस्टेबल अरूण कुमार, कुलदीप सिंह, संतोष कुमार आदि शामिल थे।
इन्हें किया गिरफ्तार
कोटद्वार पुलिस ने स्मैक के साथ जयभगवान पुत्र फत्तन सिंह निवासी मोहिउद्दीनपुर ललसाना गंगानगर जिला मेरठ उत्तर प्रदेश, मौ. आरिफ पुत्र मौ0 अनीस निवासी लकड़ीपड़ाव कोटद्वार को गिरफ्तार किया है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी ने बताया कि अभियुक्त जयभगवान से 5.62 और मौ. आरिफ से 5.14 ग्राम स्मैक बरामद की गई है।
कोटद्वार में बढ़ता जा रहा स्मैक का कारोबार 
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर व आसपास के क्षेत्रों में लम्बे समय से स्मैक का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। नशे के कारोबारी पुलिस की नाक के नीचे स्मैक सप्लाई कर रहे हैं। हालांकि, कार्रवाई के नाम पर पुलिस स्मैक पीने वालों को तो पकड़ रही है, लेकिन इसकी तस्करी करने वाले खुलेआम घूमते नजर आ रहे हैं।
शहर की रगों में नशा बसता जा रहा है। दिनों दिन नशे की जड़ें मजबूत होती जा रही हैं। कभी चोरी छिपे बिकने वाला नशे का सामान, आज धड़ल्ले से बिक रहा है। स्मैक के धुएं से जवानी सुलग रही है और नशीले इंजेक्शन नशों में उतारे जा रहे हैं। शहर की गली-गली में नशे के दीवाने झूमते दिख रहे हैं। सुनसान स्थानों पर स्मैक और नशीले इंजेक्शन लगाते देखे जा सकते हैं। युवक इस नशे को पूरा करने के लिये अपराध से भी परहेज नहीं कर रहे हैं। स्मैक की लत के चलते अपराध बढ़ रहे है और परिवार बर्बाद हो रहे हैं, लेकिन धड़ल्ले से खुले आम बिक रही स्मैक पर लगाम लगाने और जड़ तक जाने की पुलिस पहल नहीं कर पा रही है। छुटपुट स्मैकियों को पकड़कर खानापूर्ति की जा रही है। यही वजह है कि कई लोग बर्बाद होकर अकाल मौत के शिकार भी हो चुके है। नागरिक मंच और साहित्यांचल समेत विभिन्न सामाजिक संस्थाएं स्मैक पर पूरी तरह से अंकुश लगाने की मांग कई बार कर चुकी हैं, लेकिन स्मैक का कारोबार कम होने की बजाय अपने पैर पसारते ही जा रहा है।
कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी ने बताया कि नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए टीम का गठन किया गया है। गत सोमवार को देर सांय पुलिस ने 10 ग्राम से अधिक स्मैक के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। कोतवाल ने बताया कि नशे के आदी युवकों की काउंसिलिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि स्मैक पर रोक लगाने के लिए अभिभावकों को भी जागरूक होना पड़ेगा। बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!