कुमाऊं विवि के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष समेत तीन छात्र नेताओं पर केस

Spread the love

संवाददाता
नैनीताल। बिल भुगतान को लेकर कर्मचारियों से अभद्रता करने पर विवि प्रशासन की तहरीर पर पुलिस ने कुमाऊं विवि के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष समेत तीन पूर्व छात्र नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही प्रकरण में कुलपति प्रो. एनके जोशी ने उच्च स्तरीय जांच कमेटी गठित कर दी है। वहीं आंदोलित विवि कर्मचारियों ने फिलहाल कार्य बहिष्कार स्थगित कर दिया है। बता दें कि इसी वर्ष 7 मार्च को डीएसबी परिसर में आयोजित 16वें दीक्षांत समारोह में खाने और टैंट व्यवस्थाओं के लिए निविदा आमंत्रित की थी। हालांकि कार्यक्रम के दौरान बर्फबारी-बारिश और आंधी-तूफान के चलते अतिरिक्त टैंट समेत अन्य वस्थाएं की गई। इस दौरान निविदा के बिडर से कराए काम के एवज में विवि प्रशासन को तय निविदा के अतिरिक्त बिल दिया गया। धनराशि अधिक होने के कारण दूसरे गुट के छात्र नेताओं ने इसका विरोध शुरू कर दिया। यही नहीं विवि की ओर से नव नियुक्ति परिसर निदेशक भी इस लड़ाई के भेंट चढ़ गए। बिल पास नहीं करने पर उपजे विवादों के बाद उन्हें तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया। इधर बीते दिनों बिल भुगतान को लेकर विवि मुख्यालय पहुंचे पूर्व छात्र नेताओं ने लेखाधिकारी दीपक बिष्ट से अभद्रता शुरू कर दी। इसके बाद कर्मचारियों ने इसका विरोध शुरू किया। इस संबंध में कर्मचारियों ने विवि प्रशासन को कार्रवाई को पत्र लिखा। विवि प्रशासन की तहरीर पर डीएसबी परिसर के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष पंकज भट्ट, पूर्व छात्रनेता विकास जोशी और एक अन्य के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले में एसआई नरेंद्र सिंह जांच कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!