कुंभ बजट से किए जा रहे निर्माण कार्यो को करें सार्वजनिक: अरोड़ा

Spread the love

हरिद्वार। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता सुनील अरोड़ा ने प्रैस को जारी बयान में कहा कि कुंभ बजट से किए जा रहे निर्माण कार्यो को सरकार को सार्वजनिक करना चाहिए। कुंभ से किए जा रहे विकास कार्यो की जानकारी प्रदेश की जनता को होनी चाहिए। केंद्र सरकार द्वारा कुंभ बजट तो रिलीज कर दिया जाता है। लेकिन कुंभ बजट से किए जा रहे कार्यो की जानकारी आम जनमानस को प्रदान नहीं की जाती है। कुंभ बजट से होने वाले कार्यो की जानकारी प्रत्येक नागरिक को होनी चाहिए। सुनील अरोड़ा ने कहा कि जबकि सरकार के मंत्री अन्य मदों से होने वाले निर्माण कार्यो को भी कुंभ बजट में ही शामिल कर अपनी उपलब्धियां जनता के समक्ष रख रहे हैं। सुनील अरोड़ा ने कहा कि शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक को जनता के समक्ष कुंभ बजट से होने वाले निर्माण कार्यो की जानकारी को सार्वजनिक करना चाहिए। जिससे प्रदेश की जनता को मालूम हो सके कि कुंभ बजट का सद्पयोग किया जा रहा है। जबकि अन्य मदों से होने वाले निर्माण कार्यो को कुंभ निधि का नाम देकर जनता को गुमराह करने का काम किया जा रहा है। निर्माण कार्यो की गुणवत्ता पर भी सवाल उठ रहे हैं। जल्दबाजी में निर्माण कार्य किए जा रहे हैं। मंत्री मदन कौशिक निर्माण कार्यो की गुणवत्ता को लेकर उठ रहे सवालों पर भी चुप्पी साधे हुए हैं। सुनील अरोड़ा ने कहा कि उपनगरी ज्वालापुर की उपेक्षा की जा रही है। कुंभ निधि से होने वाले निर्माण कार्यो में पारदर्शिता बरतनी चाहिए। हरिद्वार गंगा घाटों के साथ साथ ज्वालापुर के गंगा घाटों का भी सौन्दर्यकरण किया जाना जरूरी है। जबकि दुर्गाघाट का निर्माण आज तक नहीं हो पाया है। जबकि गुघाल मंदिर से पहली पेशवाई निकलती है। लेकिन कुंभ निधि से ज्वालापुर के विभिन्न क्षेत्रों में काम ना होना मंत्री मदन कौशिक व अन्य विधायकों की भी कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह लगा हुआ है। उन्होंने राज्य की त्रिवेंद्र सरकार से मांग करते हुए कहा कि कुंभ निधि से किए जा रहे कार्यो को जनता के समक्ष रखा जाए। कुंभ बजट से किए जा रहे निर्माण कार्यो को सार्वजनिक किया जाना चाहिए। किसी भी रूप में कुंभ निधि के पैसे में बंदरबांट नहीं होनी चाहिए। भ्रष्टाचार पर पूर्ण अंकुश लगाने के लिए त्रिवेंद्र सरकार को कदम उठाने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!