लकडाउन पर उद्घव सरकार का समर्थन कर देवेंद्र फडणवीस ने की मांग

Spread the love

मुंबई, एजेंसी। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस की बढ़ती रफ्तार को थामने के लिए उद्घव सरकार द्वारा वीकेंड लकडाउन जैसा कड़ा कदम उठाए जाने का बीजेपी ने समर्थन किया है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राज्य सरकार का सपोर्ट करते हुए नई मांग भी की है। फडणवीस ने कहा है कि उद्घव सरकार को गरीबों, छोटे बिजनेसमैन और मिडिल क्लास परिवारों को एक आर्थिक पैकेज भी देने का ऐलान करना चाहिए। बता दें कि उद्घव सरकार ने रविवार को कैबिनेट मीटिंग में शुक्रवार रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक वीकेंड लकडाउन लगाए जाने का फैसला लिया है।
महाराष्ट्र सरकार के फैसलों पर बोलते हुए देवेंद्र फडणवीस ने कहा, श्श्बीजेपी सरकार के लकडाउन लगाए जाने के फैसले का समर्थन करती है। लोगों को पाबंदियों और कोविड प्रोटोकल्स का पालन करना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन हो सके, इसके लिए बीजेपी के वर्कर्स लोगों की रजिस्ट्रेशन करवाने और वैक्सीनेशन सेंटर तक ले जाने में मदद करेंगे।श्श् कोविड का असर झेल रहे लोगों के लिए मांग करते हुए बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने आगे कहा कि लकडाउन, आंशिक लकडाउन और कोरोना की वजह से राज्य सरकार को बिजली कनेक्शन काटने का अपना फैसला रद्द कर देना चाहिए। इसके साथ ही राज्य सरकार को गरीबों, छोटे बिजनेसमैन और मिडिल इनकम परिवारों को आर्थिक पैकेज का भी देना चाहिए।
अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कैबिनेट की बैठक के बाद संवादददाताओं से कहा कि वीकेंड के लकडाउन के अलावा, सोमवार रात आठ बजे से कड़ी पाबंदियां भी लगाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा और सप्ताह के सभी दिनों में दिन के वक्त धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की जाएगी। मलिक ने कहा, श्श्कल रात आठ बजे से कड़ी पाबंदियां लगाई जाएंगी, जिनके तहत शपिंग मल, बार, रेस्तरां, छोटी दुकानें केवल सामान पैक करा कर ले जाने के लिए और पार्सल के लिए खुली रहेंगी। सरकारी दफ्तरों को क्षमता से 50 प्रतिशत से ही काम करने की इजाजत होगी।श्श् उन्होंने बताया कि उद्योग और उत्पादन क्षेत्र , सब्जी बाजार मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) के अनुसार ही संचालित होंगे। उन्होंने कहा कि साथ ही निर्माण स्थलों पर काम तभी चलेगा, अगर उनमें कामगारों के रहने की सुविधा होगी।
महाराष्ट्र में सिनेमाहल, नाटक थिएटर बंद रहेंगे, फिल्मों और टेलीविजन की शूटिंग भीड़-भाड़ नहीं होने की सूरत में जारी रह सकती हैं। पार्क और खेलकूद के स्थान बंद रहेंगे। मंत्री मलिक ने बताया कि धार्मिक स्थलों को भी एसओपी का पालन करना होगा,सार्वजनिक परिवहन सेवा जारी रहेगी। मुंबई शहर के संरक्षण मंत्री असलम शेख ने संवाददाताओं को बताया कि कार्यालयों को घर से काम(वर्क फ्रम होम) के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा, हालांकि इनमें बीमा, मेडिक्लेम, बिजली विभाग और नगर निगम के कार्यालय शामिल नहीं है। उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं को रात्रिकालीन कर्फ्यू में टूट दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!