महिलाओं का आंदोलन सफल, शराब की दुकान पर लटका ताला

Spread the love

दुकान खाली होने तक जारी रहेगा धरना
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। आखिरकार शासन-प्रशासन को शराब की दुकान के विरोध में चलाये जा रहे महिलाओं के आंदोलन के आगे झुकना पड़ा। प्रशासन ने सनेह में शराब की दुकान पर ताला लगवा दिया है। विगत सोमवार को स्थानीय विधायक एवं प्रदेश के वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने जिला आबकारी अधिकारी को 24 घंटे के अंदर दुकान को बंद करने का आदेश दिया था। नगर निगम कोटद्वार के वार्ड नंबर तीन सनेह में शराब की दुकान के विरोध में चलाये जा रहे धरने को दुकान खाली होने तक जारी रखने का निर्णय लिया गया है। महिलाओं ने प्रशासन के दुकान बंद करने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि जब तक शराब की दुकान को खाली नहीं कराया जायेगा तब तक धरना जारी रहेगा। बुधवार को भी महिलाओं ने दुकान के बाहर धरना दिया।
सनेह में अंग्रेजी शराब की दुकान के विरोध मेें महिलाएं पिछले 11 दिन से से धरना दे रही है। महिलाओं के प्रतिनिधि मंडल ने समाजसेवी अंजू पुण्डीर के नेतृत्व में स्थानीय विधायक एवं प्रदेश के वन मंत्री डॉ. हरर्क ंसह रावत से वार्ता की थी। महिलाओं ने मंत्री को शराब की दुकान हटाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा था। महिलाओं का कहना था कि जहां यह शराब की दुकान खुली है, यह स्कूली बच्चों का मुख्य रास्ता है, महिलाओं व बच्चों को इस शराब की दुकान से काफी परेशानी हो रही है। वहीं इस दुकान के खुलने से क्षेत्र के युवा नशे के आदी हो रहे है। साथ ही क्षेत्र की शांति भंग हो रही है। मंत्री ने महिला प्रतिनिधिमंडल को 24 घंटे के अंदर शराब की दुकान को बंद करने का आश्वासन दिया था। वन मंत्री के आदेश पर सनेह में शराब की दुकान पर ताला लगा दिया गया है। महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रंजना रावत ने दुकान बंद करने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि यह जीत सभी महिलाओं की एकजुटता का परिणाम है। महिलाओं की एकजुटता के कारण ही यह जीत संभव हो पाई। पुलिस प्रशासन की ओर से महिलाओं को डराने के लिए मुकदमें दर्ज किये गये थे, लेकिन इसके बावजूद भी महिलाओं ने हार नहीं मानी और धरने पर डटी रही। जिसका नजीता आज सबके सामने है। उन्होंने कहा कि जब तक शराब की दुकान खाली नहीं कराई जायेगी तब तक धरना जारी रहेगा। धरना देने वालों में रेनू कोटियाल, बिमला कोटियाल, पूर्व प्रधान गमली देवी, सतेश्वरी देवी, सुधांशु नेगी, महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रंजना रावत, प्रीती देवी, पूनम राणा, कुसुम नेगी, शोभा देवी, डिपंल देवी, वीना देवी, कमला देवी, छोटी देवी अन्य महिलायें शामिल रही। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन06: सनेह में शराब की दुकान के बाहर धरना देती हुए महिलाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!