मैखंडा और शेरसी में एनएच के खिलाफ आंदोलन जारी

Spread the love

रुद्रप्रयाग। केदारघाटी में एनएच के कार्यों में बरती जा रही लापरवाही और मनमानी के खिलाफ किसान सभा के नेतृत्व में शेरसी व मैखंडा गांव में ग्रामीणों का आंदोलन जारी है। आक्रोशित लोगों ने एनएच व कार्यदायी संस्था के 28वें दिन भी आंदोलन जारी रखते हुए नारेबाजी की। शासन, प्रशासन ने ऑलवेदर रोड परियोजना में रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राजमार्ग पर गुप्तकाशी से सोनप्रयाग के बीच किए गए चौड़ीकरण कार्य की उच्चस्तरीय जांच, प्रभावित ग्रामीणों को मुआवजा देने और दोषी अधिकारियों व ठेकेदार के विरूद्ध कार्रवाई की मांग की है। पूर्व जिला पंचायत सदस्य राजाराम सेमवाल के नेतृत्व में ग्रामीणों ने शेरसी में नारेबाजी के साथ मांगों के समर्थन में धरना दिया। कहना था कि जिस तरह से ऑलवेदर रोड परियोजना में गौरीकुंड हाईवे का निर्माण किया गया है, वह विकास के बजाय विनाश का कारण बन रहा है। इन दिनों बरसात के चलते गुप्तकाशी से सोनप्रयाग के बीच जगह-जगह पत्थर व मलबा गिर रहा है, जिससे कभी भी कोई हादसा हो सकता है। कहा कि एनएच की कार्यदायी संस्था ने मानकों की अनदेखी का वन संपदा व अन्य परिसंपत्तियों को क्षति पहुंचाकर सडक़ चौड़ीकरण किया है, उससे स्थानीय लोगों को खासी दिक्कतें हो रही हैं। प्रशासन को कई बार अवगत कराने पर कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति की गई है, जिससे ग्रामीणों में रोष पनप रहा है। आंदोलनकारियों ने प्रशासन और एनएच पर ग्रामीणों की मांग की अनदेखी कर दोषियों को बचाने का आरोप लगाया है। धरना देने वालों में अमित अग्रवाल, प्रेमलाल, रमेश लाल सहित अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!