नंदप्रयाग-घाट मोटर मार्ग चौड़ीकरण की मांग को लेकर छात्रों ने जुलूस निकाल किया प्रदर्शन

Spread the love

-तबीयत बिगड़ने पर मध्यरात्रि को प्रशासन ने उठाए दो अनशनकारी
चमोली। कारगिल शहीद हिम्मत सिंह नेगी नंदप्रयाग-घाट मोटर मार्ग चौड़ीकरण की मांग को लेकर घाट में चल रहा आंदोलन थमने का नाम नहीं ले रहा है। शनिवार को छात्रों ने विकासखंड मुख्यालय घाट में जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। उधर, अनशन पर बैठे सात नागरिकों में से दो की हालत बिगड़ने पर शुक्रवार मध्य रात्रि के बाद प्रशासन व भारी पुलिस की मौजूदगी में उन्हें उठाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घाट में भर्ती करा दिया गया। गौरतलब है कि नंदप्रयाग से घाट तक 19 किमी लंबे मोटर मार्ग की गिनती चमोली की सबसे पुरानी सड़कों में होती है। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद इस मोटर मार्ग का नामकरण बांसवाड़ा निवासी कारगिल शहीद हिम्मत सिंह नेगी के नाम से किया गया। आज स्थिति यह है कि जगह-जगह गडढे, टूटे हुए पुश्ते और संकरे इस मोटर मार्ग से आवाजाही किसी आफत से कम नहीं। हादसे और जाम तो आम बात हैं। शनिवार को छात्रों के साथ गोपेश्वर से घाट आए क्षेत्र के निवासियों ने आंदोलन के समर्थन में विकासखंड मुख्यालय पर रैली निकालकर धरना दिया। वहीं अनशनकारी महावीर सिंह बिष्ट और सुरेंद्र सिंह कठैत की हालत नाजुक होने के चलते बीती शुक्रवार मध्यरात्रि के बाद शासन-प्रशासन ने भारी सुरक्षा व्यवस्था में उन्हें घाट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है। अभी भी व्यापार संघ अध्यक्ष चरण सिंह नेगी, कनिष्ठ उप प्रमुख भरत सिंह नेगी, ग्राम प्रधान चाका हरेंद्र सिंह, सुरेंद्र सिंह, दिनेश सिंह अनशन पर डटे हैं। अनशन पर बैठे व्यापार संघ अध्यक्ष चरण सिंह का कहना है कि आंदोलन में व्यापारियों के समर्थन से गुस्साए प्रशासन व्यापारियों को जांच के नाम पर डरा रहा है। केंद्रीय गढ़वाल विवि के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मनोज रावत, पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष मंजीत रावत, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष गोपेश्वर महाविद्यालय पंकज बिष्ट, पूर्व महासचिव मनोज सिंह, पूर्व यूआर प्रदीप सिंह भंडारी, पूर्व जिला पंचायत सदस्य उषा रावत, नगर पालिका पार्षद गोपेश्वर उषा फस्र्वाण सहित कई जन प्रतिनिधियों ने आम सभा को संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!