नगर निगम के गाड़ीघाट में सूअरों के आतंक से लोग परेशान

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम के वार्ड नंबर चार गाड़ीघाट के लोग सुआरों के आतंक से परेशान है। सुअरों के कारण लोगों का मोहल्ले में जीना दूभर हो गया है। वार्ड वासियों
का कहना है कि सुअर दिनभर गलियों में मूंह मारते फिरते है। नगर निगम प्रशासन से कई बार कहने के बाद भी सुअरों को मोहल्ले से दूर नहीं किया गया।
बार-बार भगाने के बावजूद भी सुअर वापस मोहल्ले में आ जाते है। निगम प्रशासन अगर सुअरों के मालिकों हिदायत दे तो मोहल्ले में सुअरों से छुटकारा मिल
जाएगा। निगम प्रशासन की लापरवाही के कारण वार्डवासी सुअरों के बीच रहने को मजबूर है।
रंजना रावत अध्यक्ष स्व. विष्णु सिंह रावत स्वतंत्रता संग्राम सैनानी सामाजिक संस्था के नेतृत्व में गाड़ीघाट वासियों ने उपजिलाधिकारी कोटद्वार योगेश मेहरा
को सुअरो के आतंक से निजात दिलाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। रंजना रावत ने कहा कि वार्ड नंबर चार गाड़ीघाट में सुअरों का आतंक दिनों-दिन बढ़ता जा
रहा है। सूअर घरों में आने से भी नहीं कतराते। घर के सामने सुअरों के अपना डेरा डाले रखा है। 25 से 30 सुअर गाड़ीघाट में साग-सब्जी की फसल को बर्बाद कर
रहे है। इन सुअरों ने भवनों की नींव भी खोद डाली है। नगर निगम प्रशासन को कई बार अवगत कराने के बावजूद भी समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है।
ये सूअर दिन भर गंदगी में मुंह मारते रहते हैं और फिर घरों में भी घुस जाते हैं। ऐसे में वार्ड में बीमारियों के फैलने का खतरा भी बना हुआ है। उन्होंने कहा कि
जल्द से जल्द सुअरों की समस्या से निजात दिलाई जाय। ज्ञापन देने वालों में सावित्री देवी, लालवंती देवी, रेखा देवी, अनीता देवी, ज्योति जखमोला, पूनम मैंदोला,
पूजा, सीता देवी, रिंकी सजवाण, सुनीता देवी, लक्ष्मी देवी आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!