नालियों की नहीं होती नियमित सफाई, बीमारी फैलने का बना खतरा

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम क्षेत्र में नियमित नलियों की सफाई न होने से नालियां कचरे से भरी पड़ी है। जिस कारण लोगों में संक्रमित बीमारियां फैलने का खतरा बना हुआ है। क्षेत्र में अधिकांश नालियां गंदगी से भरी पड़ी हुई है, लेकिन निगम के कर्मचारियों द्वारा नालियों की साफ-सफाई नहीं की जा रही है, जिससे नगर में दुर्गंध फैल रही है। नगर निगम के कर्मचारियों की लापरवाही के कारण नगर की सफाई व्यवस्था दिन प्रतिदिन लडखडाती जा रही है, जिसको कोई सुनने वाला नहीं है।
नगर निगम क्षेत्र के झण्डाचौक, मालगोदाम रोड पर नालियां तो बना दी गई हैं, लेकिन नालियों की सफाई नहीं की जाती है। नालियां कचरे से भरी पड़ी हुई है, लेकिन सफाई कर्मी नालियों की सफाई नहीं कर रहे हैं। जिससे लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नगर निगम शहरवासियों को अपेक्षित सुविधाएं मुहैया कराने में विफल साबित होता दिख रहा है। यहां तक मूलभूत सुविधाओं से लोगों को वंचित होना पड़ रहा है। लोगों की हालत दयनीय है। इसकी वजह है कि वार्डों की नालियों में नियमित सफाई नहीं हो पा रही है। नालियां गंदगी से भरी पड़ी हैं, कई जगह नालियों की गंदगी रास्ते पर बहकर लोगों को परेशान कर रही है। गंदगी के चलते मच्छर पनप रहे है। लोगों पर बीमारियों की चपेट में आने का खतरा मंडरा रहा है। लोगों का कहना है कि नालियों की सफाई के लिए कई बार नगर निगम के अधिकारियों से कहा गया, लेकिन सफाई हो नहीं रही है। शहर के मुख्य चौक झंडाचौक और मालगोदाम रोड के पास नाली गंदगी से भरी पड़ी है। जिस कारण लोगों को भारी परेशानी हो रही है। बारिश होने पर नालियों की गंदगी सड़क पर बहने लगती है। स्थानीय दुकानदार ने कहा कि नालियों की सफाई नहीं होने से जल निकासी नहीं हो पाती है। गंदे पानी से उठती दुर्गंध की वजह से काफी मुश्किल होता है। नालियों की सफाई न होने से मच्छर पनप रहे हैं। इससे खतरनाक बीमारी फैलने का अंदेशा है। नगर निगम के सफाई निरीक्षक सुनील कुमार ने बताया कि कर्मचारियों को नालियों की नियमित सफाई करने के लिए निर्देशित किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!