अंकिता के आरोपियों का नार्कों टेस्ट व मामले की सीबीआई जांच की जाए

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

अंकिता के परिजनों को न्याय दिलाने की लड़ाई में छात्र संघ आया आगे
श्रीनगर गढ़वाल : अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में परिजनों को न्याय दिलाने की लड़ाई में गढ़वाल विवि के बिड़ला परिसर छात्र संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारी आगे आए हैं। अंकिता भंडारी के पिता वीरेंद्र सिंह नेगी व माता सोनी देवी का कहना है कि सरकार इस मामले में ठोस पहल नहीं कर रही है। कहा कोई भी विधायक इस मामले में बाहर आने को तैयार नहीं हैं। प्रशासन की ओर से भी कोई मदद उन्हें नहीं मिल रही है। आरोप लगाया कि जो एसआईटी गठित की गई उस पर भी सरकार का पूरा दबाव था। आरोप लगाया कि रिजॉर्ट तोड़कर व फैक्ट्री में आग लगाकर सारे सबूत नष्ट कर दिए गए हैं। कहा कि उनकी तीन मांगें हैं कि आरोपियों का नार्कों टेस्ट किया जाए व मामले की सीबीआई जांच की जाए। साथ ही उन्होंने वीआईपी के नाम का खुलासा करने की मांग भी की।
बुधवार को अंकिता की मां और पिता के साथ श्रीनगर में बैठक कर छात्र संघ पदाधिकारियों ने खुल कर आगे आने की बात कही। उन्होंने कहा कि इसके लिए गुरुवार को श्रीनगर में रैली भी निकाली जाएगी। साथ ही गोला पार्क में सभा का आयोजन भी किया जाएगा। छात्र संघ अध्यक्ष गौरव मोहन नेगी, उपाध्यक्ष रोबिन सिंह, सचिव सम्राट राणा, सह सचिव रंजना, कोषाध्यक्ष योगेश व छात्रा प्रतिनिधि मोनिका चौहान ने कहा कि सरकार अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले के दोषियों को सख्त से सख्त सजा दिलाने के लिए ठोस पहल करे। अन्यथा छात्र सड़कों पर उतरने को विवश हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि छात्र संघ के आह्वान पर गुरुवार को विवि गेट से लेकर नगर के मुख्य मार्गों पर रैली निकाली जाएगी। रैली के बाद गोला बाजार में सभा होगी। उन्होंने कहा कि इस घटना से पूरा उत्तराखंड शर्मसार हुआ है। सरकार दोषियों को सजा दिलाने के बजाय अब सोई हुई प्रतीत हो रही है। उन्होंने इस मामले में संलिप्त वाईआईपी का नाम उजागर करने की मांग भी की। श्रीनगर डालमिया धमशाला में अंकिता भंडारी प्रकरण को लेकर विभिन्न संगठनों से जुड़े लोगों ने बैठक की। बैठक में अंकिता की मां व पिता भी मौजूद रहे। इस मौके पर लोगों ने कहा कि अभी तक अंकिता हत्याकांड में सरकार के स्तर से कोई ठोस कार्यवाही नहीं कराई गई है। जिससे उनके माता-पिता आज भी न्याय के लिए दर-दर भटक रहे हैं। कहा कि इसके विरोध में श्रीनगर में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन भी करना पड़े तो वह पीछे नहीं हटेंगे। बैठक में प्रगतिशील जनमंच के अध्यक्ष अनिल स्वामी, कांग्रेस के डा.प्रताप भंडारी, गंगा असनोड़ा, उमा घिल्डियाल, उपासना भट्ट, डा. योगेंद्र कांडपाल, अंकित उछोली, शिवानी पांडेय, रेशमा, विनीता सेमवाल आदि मौजूद रहे। (एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!